नीलम रत्न के क्या फायदे है – Neelam Ratna ke kya Fayde Hai

नीलम रत्न के क्या फायदे है – Neelam Ratna ke kya Fayde Hai

 

नीलम रत्न के क्या फायदे हैं –

नीलम रत्न के क्या फायदे हैं, आज का हमारा विषय है,जय श्री गणेश नमस्कार मित्रों आज हम जानेंगे कि नीलम रत्न के क्या-क्या फायदे हो सकते हैं

पौराणिक काल से ही हमारे पूर्वजों द्वारा विभिन्न प्रकार के महारत्नो तथा रत्नों का उपयोग विभिन्न प्रकार के आभूषण अंगूठीया आदि में उपयोग किया जाता रहा है lइसी पद्धति को आगे बढ़ाते हुए आज भी हम लोग विभिन्न प्रकार के रत्नों का उपयोग करते हैं, ताकि हम विभिन्न प्रकार के ग्रहों तथा उपग्रहो के दुष्प्रभाव को विफल कर अनुकूल प्रभाव तथा सकरात्मक बदलाव अपने जीवन में ला सकेl ज्योतिष विद्या हमारे पूर्वजों द्वारा सबसे उन्नत विद्याओं में से एक हैं, जिस के द्वारा विभिन्न प्रकार की भविष्यवाणियां किसी के बारे में कि जाती है, तथा कब किस ग्रह का गोचर हमारे जीवन में होगा, इस बात की हमें सटीक जानकारी ज्योतिष विद्या के माध्यम से प्राप्त होता है।

इसे भी पढ़े:- मोती रत्न के चमत्कारी फायदे, असली नकली की पहचान एवं धारण करने की श्रेष्ठ विधि 

 ज्योतिष विद्या की अनुसार नीलम रत्न एक बहुमूल्य रत्न है जो शनि ग्रह से संबंधित है, ऐसा माना जाता है, कि नीलम रत्न में ऐसे शक्तियां विद्मान है, जो शनि ग्रह के दुष्प्रभाव को निष्क्रिय करने में सक्षम है, तथा शनि ग्रह के द्वारा दी जा रही विभिन्न प्रकार के कष्ट, बीमारी ,पीरा आदि को दूर कर सकारात्मक बदलाव जीवन में लाने में सक्षम हैंl ईश्वर के द्वारा दिया गया यह नीलम रत्न किसी वरदान से कम नहीं है l नीलम  रत्न का रंग गहरा नीला होता है, तथा अत्यधिक चमकने वाला लोच युक्त रत्न है, जो हमें शनि ग्रह के प्रकोप से बचाता हैl शनि देव को सूर्यपुत्र तथा कर्मफल दाता के नाम से भी जाना जाता है, किंतु यह ग्रह पितृ शत्रु भी है l

ऐसा माना जाता है, कि सूर्य देव और शनि ग्रह में कभी भी अच्छे संबंध नहीं रहे हैंl इसी वजह से इन दोनों में शत्रुता का भाव देखने को मिलता हैl शनि ग्रह को मारक ग्रह के भी नाम से जाना जाता है, क्योंकि बहुत से लोगों का मानना है, कि शनि ग्रह का जब गोचर हमारे कुंडली में होता है, तब विभिन्न प्रकार की परेशानियां हमारे जीवन को घेरने लगती हैl ऐसा लगता है, मानो दुख पीड़ा हानी आदि का कभी अंत ही नहीं होगा। शनिदेव जैसे सारी परीक्षा एक साथ ही लेकर रहेंगे और इस परीक्षा का परिणाम में आपको सफल होना ही होगा अन्यथा परिणाम बहुत बुरे भुगतने पड़ सकते हैं, तो आइए जानते हैं, नीलम रत्न किस प्रकार शनि ग्रह के दुष्प्रभाव को कम करता है, तथा इसके क्या क्या फायदे हैं-

इसे भी पढ़े:- पन्ना रत्न के फायदे और नुकसान

नीलम रत्न के क्या फायदे हैं-

1. जिस जातक के द्वारा नीलम रत्न धारण किया जाता है, उसमें धैर्य की वृद्धि होती हैl वह एक धैर्यवान व्यक्ति के रूप में जाना जाता है, तथा इसका उपयोग कर बड़े से बड़ा काम करने में सक्षम होता है, किसी भी परिस्थिति में अपने मन पर नियंत्रण नहीं खोने की वजह से लोग भी काफी प्रभावित होते हैं, तथा समाज में मान-सम्मान की वृद्धि होती हैl

2.नीलम रत्न धारण करने से आप में निर्णय लेने की क्षमता बढ़ जाती है lयह रत्न निर्णायक क्षमता को आप में बढ़ाने में सक्षम होता है lबहुत सी ऐसी कठिन परिस्थितियां हमारे जीवन में आती है, जब हमें कुछ फैसले लेने होते हैं, और यदि यह निर्णय सही से नहीं लिया गया तो बहुत से हमें नुकसान झेलने पड़ सकते हैं, ऐसे में यह रत्न सोने पर सुहागा जैसा कार्य करता है lयह आपकी सोचने की क्षमता को बढ़ाकर सही निर्णय लेने में बहुत मदद करता है, जिससे आपको बहुत ही ज्यादा लाभ मिलता है।

3. नीलम रत्न धारण करने से हमारा बौद्धिक विकास तीव्रता के साथ होता है, तथा चीजों को समझने में हमें बहुत मदद करता है lजटिल से जटिल समस्याओं को हम अपनी बौद्धिक क्षमता का उपयोग कर चुटकियों में खत्म कर सकते हैं।

इसे भी पढ़िए:- लाल हकीक माला के अदभुत फायदे 

4. इस रत्न को धारण करने से जातक को मानसिक अवसाद तथा मानसिक बीमारियों से निजात मिलने की प्रबल संभावना रहती है lनीलम रत्न हमारे दिमाग के उलझे तारों को सुलझा कर हमारा ध्यान केंद्रित करता है, जिससे हम दिमाग के विभिन्न उलझन से खुद को बाहर निकालने में सक्षम होते हैं, तथा सामाजिक जीवन जीने का प्रयास करते हैं।

5. इस रत्न को धारण करने के पश्चात आपको असीम शांति की अनुभूति होती है, तथा मन में किसी प्रकार की व्याधि नहीं रहती है lआप किसी भी परिस्थिति में खुद के मन को शांत रखने में सक्षम हो पाते हैं, जिससे परिस्थितियां आपको हमेशा सकारात्मक प्रभाव देती  रत्न को धारण करने वाला शत्रु पर विजय प्राप्त करता हैl तथा गुप्त शत्रुओं के द्वारा रची गए विभिन्न प्रकार के चक्रव्यू से खुद  का उपयोग कर उनके हर चाल को निरस्त कर देता हैl यह रत्न विभिन्न प्रकार के जालसाजी ,ठगी आदि से भी जातक को बचाता है।

6. नीलम रत्न धारण करने से कोर्ट कचहरी या किसी प्रकार का जमीन जायदाद का वाद विवाद में भी सफलता प्राप्त होती है, तथा आगे भविष्य में आपको इन सब चीजों में फिर कभी पड़ने की जरूरत नहीं पड़ती है।

7. नीलम रत्न धारण करने वाले जातकों के जीवन में कभी भी रुपयों पैसों की कमी नहीं होतीl आर्थिक स्थिति बहुत मजबूत होती है, तथा आय के स्रोत बढ़ने से वह धन संचित करने में सक्षम होते हैं, साथ ही साथ भौतिक सुखों में भी वृद्धि होती है।

8.नीलम रत्न धारण करने से विभिन्न प्रकार के रोगों से छुटकारा मिलता है lइस रत्न को धारण करने से जीने की चाह उत्पन्न होती है, तथा शारीरिक एवं मानसिक तौर पर हमें विभिन्न परेशानियों से छुटकारा मिलता है, दवाइयों का बोझ कम होता है।

9. नीलम रत्न धारण करने से कैरियर संबंधित परेशानियां खत्म होती है, तथा आप किसी उच्च पद पर आसीन होते हैंl आपके द्वारा किया गया प्रयास रोजगार को पाने में सफल होता है l अच्छे-अच्छे रोजगार के अवसर आपको मिलने शुरू हो जाते हैं, जिससे आपकी आर्थिक स्थिति तथा सामाजिक स्थिति सुधरने लगती है।

इसे भी पढ़े:- हल्दी की माला पहनने के फायदे 

10. इस रत्न को धारण करने से आप जीवन के विभिन्न आयामों में अप्रतिम रूप से सफलता प्राप्त करते हैं, तथा विभिन्न प्रकार के मांगलिक कार्यों में भी आपका योगदान बढ़-चढ़कर रहता है।

11. इस रत्न को धारण करने से मन में अशांति का एहसास होता है।

12. बहुत से लोगों को अपने खुद का घर होने की लालसा रहती है, तथा उनकी यह भी चाहत होती है, कि उनका खुद का जमीन जायदाद हो ,गाड़ी हो , इन सभी भौतिक वस्तुओं को भी बहुत ही आसानी से अर्जन उस व्यक्ति के द्वारा किया जा सकता है, जिस ने नीलम रत्न धारण किया हो।

13. नीलम रत्न धारण करने से आपको वाक् सिद्धि की प्राप्ति होती है, जिससे वाक कला में आप पारंगत होते हैं, लोग आपके व्यक्तित्व की ओर आकर्षित होते हैं, और आपके बातों को मानते भी हैं, तथा आपको भी बहुत-बहुत सम्मान देते हैं।

आशा है, आप सभी लोगों को नीलम रत्न के क्या क्या फायदे होते हैं, इस लेख से जानकारी प्राप्त हो गया होगा, आप सभी लोगों का बहुत-बहुत धन्यवाद।

 

 

Leave a Reply