वैजंती माला के उपाय -Vaijanti Mala Ke Upay

वैजंती माला के उपाय -Vaijanti Mala Ke Upay

 

वैजंती माला के उपाय – Vaijanti Mala Ke Upaay

वैजंती माला के उपाय – आज हम इस लेख के माध्यम से आपको कुछ विशिष्ट उपाय वैजंती माला के बारे में बताने जा रहे हैं, जिस का प्रयोग कर आप अपने मनोरथ कार्य को सिद्ध कर सकते हैं किंतु याद रखें कि कोई भी कार्य सभी पूर्ण रुप से फलित होता है, जब हम उसने अपनी अटूट आस्था रखते हैं, जब भी आप कोई भी उपाय करें या किसी भी तरह का प्रयोग करेंl तो अपने मन में किसी भी प्रकार के संशय को उत्पन्न होने ना दें जब तक आप को जो भी प्रयोग करने जा रहे हैं।

इसे भी पढ़े:- पन्ना रत्न का उपरत्न क्या है 

उस पर पूर्ण विश्वास ना हो तब तक वह चीज फलित नहीं होती है, दुनिया में कई ऐसी चीज़े है जो केवल भाव से चलती है केवल विचारों से चलती है, दूसरे के लिए भले ही यह एक वेतूका बात हो सकता है, वैज्ञानिक रुप से भले ही वह उस बात को अस्वीकार कर दे किंतु जहां आस्था की बात आती है, वह सारी चीजों में चूक हो जाती है, विज्ञान किसी भी बात को केवल पांच भूतों के आधार पर बताता है, उसके पास केवल 5 इन इंद्रियों का ज्ञान प्राप्त है, किंतु हमारा भारतीय योगशास्त्र हो या विभिन्न प्रकार के वेद आदि सभी में छठी ज्ञानेंद्रि की बात की गई है।

जिसके माध्यम से हम अपने दिमाग का सारा हिसाब प्रयोग में ला सकते हैं इसलिए हमें अपनी छठी ज्ञानेंद्र पर भरोसा करके सबसे पहले यह सुनिश्चित करना होगा कि हम जो भी कार्य करने जा रहे हैं, उसमें हमें सफलता अवश्य प्राप्त होगी।हमें अनेक प्रकार के अच्छे अनुभूतियों की प्राप्ति भी होगी आइए जानते हैं किस प्रकार से हम वैजयंती माला का उपयोग कर सकते हैं।

इसे भी पढ़े:- जरकन क्या है, इसके चमत्कारी फायदे कौन धारण करें और धारण विधि?

1) विवाह के लिए – वैजयंती माला को वैवाहिक जीवन में प्रवेश करने के लिए या गृहस्थ जीवन में प्रवेश करने के लिए या किसी व्यक्ति विशेष की यदि शादी विवाह जैसी चीजें विलंब चल रही है आयु के अनुसार उसका विवाह समय अवधि से पार जा रहा है किंतु विवाह जैसे मांगलिक कार्य विशिष्ट एवं उपयुक्त समय पर संपन्न नहीं हो रहा है तो ऐसी परिस्थिति में चिंतन में पड़ना स्वाभाविक सी बात हो जाती है

स्वयं वर वधू के साथ – साथ उनके परिवार वाले भी चिंतित अवस्था में चले जाते हैं, क्योंकि एक सही समय पर यदि सभी चीजें पूर्ण हो जाती है तो उसका बात ही कुछ अलग रहता है, खासकर शादी विवाह जैसे मामलों में भी एक सार्थक समय पर पूर्णता होना बहुत आवश्यक माना जाता है किंतु भागदौड़ की जिंदगी में अपने लक्ष्य की प्राप्ति में लोग आजकल केवल अपने धन के अर्जन के स्रोत में लगे रहते हैं, जिसके कारण विवाह जैसी संबंधित चीजे विलंब होने लगती है, या कई बार उनकी ग्रह दशा सही नहीं रहती है।

 

जिसके कारण विवाह उपयुक्त समय पर पूर्ण नहीं हो पाता है, ऐसी स्थिति में यदि कोई भी कन्या या पुरुष है, तो सबसे पहले उसे बृहस्पतिवार के दिन ब्रह्म मुहूर्त में उठकर स्नानादि से निवृत्त होकर गंगाजल से वैजयंती माला को शुद्ध करने के बाद भगवान विष्णु तथा माता लक्ष्मी के संयुक्त तस्वीर के समक्ष या मंदिर यदि है, तो मंदिर के समक्ष उचित आसन लगाकर बैठ जाए उसके बाद गाय का शुद्ध घी का दीपक प्रज्वलित करें उसके बाद गणेश भगवान को याद करते हुए उनसे मन ही मन अपने कार्य में सिद्धि प्राप्त करने की कामना करते हुए उनका आशीर्वाद प्राप्त करें ।

उसके बाद वैजयंती माला से गुरु ग्रह बृहस्पति के मंत्रों का जाप शुरू कर दे l

कम से कम 11 माला आपको जाप करना है, तथा यह क्रम कम से कम 11 गुरुवार तक चलेगा बीच मे यदि किसी कारण से रजस्वला के कारण बाधा उत्पन्न हो जाए तो कोई दिक्कत नहीं है,आप उस गुरुवार को छोड़कर अगले गुरुवार को यह क्रिया दोहरा सकते हैं l

उसके बाद जब 11 गुरुवार तक यह क्रिया पूर्ण हो जाए उसके बाद उस माला को धारण कर ले lवह पूर्ण रुप से किसी को भी वशीभूत करने में आपकी मदद करेगा एवं उत्तम जीवन साथी की तलाश आपकी बहुत जल्द समाप्त होगी एवं विवाह जैसे मांगलिक कार्य जल्द ही पूर्ण होने की प्रबल संभावना बनी रहेगीl जल्द ही आप गृहस्थ जीवन में प्रवेश कर पाएंगे एवं दांपत्य जीवन के सुख का अनुभव प्राप्त कर पाएंगेl

मंत्र-ll ॐ ग्रां ग्रीं ग्रौं सः गुरुवे नमःll

 

2). जिन लोगों की आर्थिक स्थिति क्षीण है या जिन्हें भाग्य का साथ प्राप्त नहीं होता है, या ऐसे लोग जिनके जीवन में धन का अभाव लगा रहता है, या ऐसे लोग जिनके जीवन में धन की आपूर्ति सदा लगी रहती है, जिसके कारण रुपए पैसे की तंगी बनी रहती है, घर परिवार में दुख दरिद्रता अपना पैर पसारे रहती है, ऐसे लोगों के लिए यह उपाय करना बहुत ही लाभप्रद सिद्ध हो सकता है इसके लिए सर्वप्रथम किसी भी शुक्ल पक्ष के शुक्रवार का दिन का चयन करें उसके बाद ब्रह्म मुहूर्त में स्नान आदि से निवृत होकर गाय के शुद्ध दूध का खीर बनाए उसने चीनी की जगह मिस्री डालें उसके बाद माता लक्ष्मी एवं जगत पिता जगदीश्वर के समक्ष आसन लगाकर बैठ जाए भगवान गणेश की आराधना करें या भगवान गणेश का कोई भी मंत्र एक माला वैजयंती माला से जाप करें ।

उसके बाद प्राणायाम करें चित को पूर्ण रूप से शांत करने का प्रयास करें उसके बाद लक्ष्मी मुद्रा लगाकर माता लक्ष्मी के मंत्र-llऊं महालक्ष्म्यै च विद्महे विष्णुपत्न्यै च धीमही तन्नो लक्ष्मी देवी प्रचोदयात’ ll का जाप उपांशु रूप से करना है तथा माला से कम से कम 5 माला प्रतिदिन 11 दिनों के लिए विधिवत रूप से इस विधि को पूर्ण करने का प्रयास करें l

पूजा समाप्त होने के बाद भोग लगा हुआ खीर का केवल घर परिवार के सदस्यों के साथ – साथ स्वयं भी ग्रहण करें उसके पश्चात जब यह विधि पूर्ण हो जाए तब किसी को कुछ दान अवश्य करें या कन्याओं को भोजन करवाएं lउसके बाद इस सिद्ध माला को प्रतिदिन अपने पूजा स्थल पर पुष्प आदि अर्पित कर इससे माता लक्ष्मी के किसी भी मंत्र का जाप करते रहे आपके जीवन में सभी धन की समस्याएं स्वत ही निर्गमन करने लगेंगे।

 

आर्थिक स्थिति में धीरे – धीरे ही सही किंतु आपको अच्छे बदलाव अच्छे परिणामों की प्राप्ति होगी यह सकारात्मक चीजें को प्रभाव को आपके जीवन में बढा देता है, जिससे आय के स्रोत बनते चले जाते हैं, एवं आर्थिक परिस्थिति हर पहलू में उत्तम रहती है, इस माला को आप चाहे तो कार्यस्थल में भी रख सकते हैं, या जो लोग व्यापारी वर्ग है वह अपनी दुकान आदि के स्थल में भी इसे अभिमंत्रित कर के रख सकते हैं।

इससे धन के चक्र में अवरोध उत्पन्न नहीं होगा तथा वित्त विधयक संबंधित चीजों में आप सदा विजय रहने वाले हैं, एक उपयुक्त निधि को संचित करने में भी सफल रहेंगे विभिन्न प्रकार के सांसारिक सुखों को प्राप्त करने में भी यह माला अप्रतिम रूप से सहायक सिद्ध हो सकता है, इसे रखने से घर में सुख समृद्धि, ऐश्वर्य ,वैभव की प्राप्ति होती है, पारिवारिक संरचना मजबूत होती है, तथा परिवार के लोगों में असीम शांति की अनुभूति भी देखने को मिलती है।

अभिमंत्रित वैजन्ती की माला कहां से प्राप्त करें –

मित्रों यदि आप भी अभिमंत्रित वैजन्ती की माला प्राप्त करना चाहते हैं तो हमारे नवदुर्गा ज्योतिष केंद्र से अभिमंत्रित वैजन्ती की माला मात्र – 250₹ में प्राप्त कर सकते है, जनकल्याण हेतु कुरियर चार्ज फ्री रखा गया है – Call and Whatsapp – 7567233021

 

Leave a Reply