शंख के फायदे – Shankh Ke Fayde

शंख के फायदे – Shankh Ke Fayde

 

शंख के फायदे, Shankh Ke Fayde

शंख के फायदे, Saunkh Ke Fayde:-आज हम शंख के फायदे तथा उससे संबंधित विभिन्न प्रकार के बिंदुओं पर प्रकाश इस लेख के माध्यम से डालने का प्रयास करेंगे।

शंख क्या है???

शंख एक प्रकार का चूने से निर्मित ढांचा होता है, जो समुद्र के जलचर मोलास्क जिसकी रीढ़ की हड्डी नहीं होती है, तथा उसके सुरक्षा के रूप में शरीर के हिस्से का सबसे अभिन्न अंग खोल के रूप में उसके द्वारा तैयार किया जाता है ।मोलास्क के शारीरिक रचना की जैसे जैसे वृद्धि होती है।वैसे वैसे यह खोल भी बड़ा होते चला जाता है, एवं वृद्धि होने के साथ-साथ इसकी मजबूती भी बढ़ती चली जाती है।

शंख का निर्माण करने में यह जीव समुद्र के पानी से चूना को एकत्रित करते हैं, तथा परत दर परत शंख     (Shankh)का निर्माण करते हैं ।यह समुद्री जीव का रक्षा कवच के रूप में प्रयोग में लाया जाता है, तथा जब तक वह प्राणी जीवित रहता है।

इसे भी पढ़ें:- मोती रत्न किसे पहनना चाहिए 

तब तक इस खोल के माध्यम से उसकी सुरक्षा होती रहती है, और जैसे ही इस में निवास करने वाले मोलास्क की मृत्यु हो जाती है, तब यह शंख(Shankh) समुद्र की सतह पर तैरते हुए आ जाते हैं।शंख (Shankh)  वैसे तो श्वेत वर्ण के पाए जाते हैं, किंतु कई प्राकृतिक रूप से चिन्ह दाग धब्बे कई रंगों में विद्यमान रहते हैं, जो विभिन्न पदार्थों के मिश्रण से बने हुए होते हैं।

यह चिन्ह इनकी सुंदरता को और अधिक अतिशयोक्ति प्रदान करते हैं।(Shankh)(Shankh ke fayde) विभिन्न प्रकार के होते हैं, जिनका वर्णन हमें रामायण तथा महाभारत एवं विभिन्न प्रकार के हिंदू धर्म ग्रंथों से प्राप्त होता है।

शंख से मिलने वाले फायदे

शंख के फायदे, Shankh Ke Fayde

इसे भी पढ़ें :- शनि ग्रह क्या है, और शनि की महादशा, ढैया और साढ़ेसाती से कैसे बचें ? साही का कटा क्या है ? उसके प्रयोग और कहा से खरीदे।

हिंदू धर्म ग्रंथों के अनुसार शंख (Shankh) को बहुत अधिक पवित्र माना जाता है, तथा इसका संबंध सीधे तौर पर श्री हरि विष्णु एवं माता लक्ष्मी से संबंधित होता है, यही कारण है, कि प्राचीन काल से ही हमारे ऋषि मुनियों के द्वारा तथा हमारे पूर्वजों के द्वारा इसका प्रयोग विभिन्न प्रकार के पूजा -साधना, धार्मिक अनुष्ठान में प्रयोग में लाया जाता है तथा हिंदू धर्म में जितनी भी पूजा-अर्चना धार्मिक अनुष्ठान अध्यात्मिक चीजों की प्रक्रिया में बिना शंख (Shankh)    के कोई भी कार्य संपन्न नहीं होता है।

इसे भी पढ़ें:- काली गुंजा के फायदे 

श्री हरि विष्णु नारायण के विभिन्न आभूषणों में से एक शंख (Shankh)  भी माना जाता है तथा शंख.   (Shankh)  की ध्वनि सभी देवता हो या देवी हो या आदिशक्ति हो सभी बहुत अधिक प्रशन्न रहते हैं। शंख    (shankh ke fayde)की ध्वनि जहां तक पहुंचती है। वहां तक के प्राणियों का जीवन सफल हो जाता है।

कई प्रकार के वास्तु दोष बाधाएं आदि जैसी चीजें नष्ट होने लगती है ।हिंदू धर्म में जितनी अधिक महत्व शंख  (shankh ke fayde)को प्रदान की गई हैl उतनी ही महत्ता विभिन्न प्रकार के धर्म।जैसे- जैन धर्म, बौद्ध धर्म आदि में भी इससे बहुत अधिक अभूतपूर्व माना जाता है ।

माना जाता है कि शंख   (shankh ke fayde)  की उपासना करने से धन की कभी कमी नहीं रहती है ।शंख  (shankh ke fayde)     निकलने वाली ध्वनि बहुत ही सकारात्मक शक्तियों से पूर्ण होती है इसलिए जहां तक शंख  (shankh ke fayde)   की ध्वनि पहुंचती है ।वहां तक जितनी भी नकारात्मक शक्ति रहती है।

सभी नष्ट होने लगती हैसभी तरह के नकारात्मक ऊर्जा के द्वारा उत्पन्न किए जाने वाले भय ,बीमारी, रोग, शोक जैसी चीजों को नष्ट करने की क्षमता इस दिव्य में विद्यमान होती है। ऐसी मान्यता है कि समुद्र मंथन के समय जब विभिन्न प्रकार की वस्तुएं प्रदीप्त हो रही थी ।तब उन सभी में से एक वस्तु शंख भी था।

इसे भी पढ़ें:- हकीक माला के फायदे 

जो माता लक्ष्मी के साथ उत्पन्न हुआ थाl यही कारण है, कि शंख को माता लक्ष्मी का भ्राता मानकर पूजा अर्चना की जाती है, इसलिए शंख  (shankh ke fayde)  जिस भी स्थल पर रहता है, या जिस भी अlस्थल पर प्रतिष्ठित कर रखा जाता है lउस स्थान पर माता लक्ष्मी भी विराजमान रहती है, जिस घर में  रहता है lवहां सदैव माता लक्ष्मी निवास करती है ।सदैव उस घर परिवार के लोगों पर श्री हरि विष्णु पितांबर तथा माता पद्मा का आशीर्वाद बना रहता है।

शंख के फायदे, Shankh Ke Fayde

ऐसी मान्यता है, कि यदि कोई व्यक्ति किसी खास कार्य को सफल बनाने के लिए जा रहा हो और उसे शंख    (shankh ke fayde) की ध्वनि सुनाई पड़ जाए ।तो इसका अर्थ है, कि उसका कार्य बिना किसी भी तरह के बाधा के संपन्न होगा तथा ईश्वरीय कृपा से उसके कार्य की सफल होने के लिए कई शुभ योग भी बनेंगे।

हिंदू धर्म में जितना अधिक शंख (shankh ke fayde)  का धार्मिक महत्व है ।उतना ही अधिक स्वास्थ्य के दृष्टिकोण से यह महत्वपूर्ण स्थान रखता है, जिस व्यक्ति के द्वारा संघ के द्वारा शंख उद्घोषणा की जाती है।उस व्यक्ति को कभी भी फेफड़े संबंधित रोग नहीं होते हैं। उसकी मानसिक स्थिति बहुत ही प्रखर रहती है।

उसके शरीर तथा मन का सही संतुलन प्राप्त होता है।इसके साथ-साथ हृदय से संबंधित रोगों में भी यह बहुत अधिक लाभ प्रदान करता है ।शरीर के सुरक्षा तंत्र को मजबूती प्रदान करने में भी इस दिव्य संसाधन का कोई जोड़ नहीं है।

यह व्यक्ति के सुरक्षा तंत्र को असंख्य क्षमता प्रदान करता है, तथा तंत्रिका तंत्र भी बहुत ही शक्तिशाली होता है। शरीर को तंदुरुस्त बनाने में तथा मन की सर्वांगीण विकास में यह बहुत अधिक लाभप्रद माना जाता है।

शंख के फायदे, Shankh Ke Fayde

इसे भी पढ़ें :- शनि ग्रह क्या है और शनि की महादशा, ढैया और साढ़ेसाती से कैसे बचें ?

आयुर्वेद में शंख।(shankh ke fayde)    के भस्म का प्रयोग कई जटिल बीमारियों को दूर करने में किया जाता है।आयुर्वेद में इस से निर्मित भस्म से कई लाइलाज बीमारियां भी ठीक हो सकती है, तथा इससे संबंधित कई ऐसी औषधियां भी बनती है, जो त्वचा संबंधित रोगों में अमृत के समान कार्य करती है।

जिस भी गृह स्थल में भूमि के किसी भी स्थान पर वास्तु दोष हो या ऐसा प्रतीत होता हो की नकारात्मक शक्तियों का डेरा वहां लगा रहता है।तो ऐसी स्थिति में को विधि विधान से पूजा अर्चना करने के बाद प्रतिष्ठित करना चाहिए तथा प्रतिदिन शंखनाद करने से वहां पर मौजूद जितनी भी नकारात्मक शक्तियां है, जितनी भी ऊपरी पारलौकिक शक्तियां है।

वह सभी धीरे-धीरे नष्ट होने लगती है, तथा सकारात्मक ऊर्जा का संचार बढ़ने लगता है। व्यक्ति को वहां अच्छे अनुभूतियों की प्राप्ति होने लगती है। वहां ब्रह्मांड में निवास करने वाली शक्तिशाली सकारात्मक सकती हो का डेरा लगने लगता है, जिससे वह स्थान स्वर्ग के समान आनंद प्रदान करने वाला होने लगता है ।एकाग्रता शक्ति में वृद्धि होती है lमन शांत रहता है।

वाणी में मधुरता आती है।संचार तंत्र मजबूत होता है।सुख -समृद्धि प्राप्त करने का एक महत्वपूर्ण संसाधन के रूप में इस दिव्य वस्तु का प्रयोग किया जाता है। इसमें धन को आकर्षित करने की अनंत क्षमता होती है।

मित्रों यदि आप अभिमंत्रित शंख (shankh ke fayde)ऑडर करना चाहते हैं तो हमारे नवदुर्गा ज्योतिष केंद्र से अभिमंत्रित किया हुआ संख 4 ईच 500 रुपिया लैब सर्टिफिकेट और गारंटी कार्ड साथ में दिया जाएगा साथ ही साथ मुफ्त में अभिमंत्रित भी करके दिया जाएगा – Call and Whatsapp – 7567233021

 

Leave a Reply