काली गुंजा के टोटके- Kali Gunja ke Totke

काली गुंजा के टोटके- Kali Gunja ke Totke

 

काली गुंजा के टोटके :-

इसे भी पढ़े:- गोमेद रत्न के बारे में बताएं 

काली गुंजा के टोटके ज्योतिषीय उपाय के रूप में व्यापक रूप से प्रयोग में लाए जाते हैंl प्राकृतिक रूप से प्राप्त होने वाली कई प्रकार की औषधियां, दुर्लभ वृक्ष के जर, वृक्ष की लताएं ,वृक्ष के फल या उनसे प्राप्त होने वाले बीज इन सभी का प्रयोग मानव कल्याण के लिए ना जाने कितने ही अनंत कालों से किया जाता रहा है lयह हमारे पूर्वजों की बताई हुई बातें हैं,जो हमें व्यवहारिक जीवन में अनेक कष्टों अनेक व्याधियों से मुक्ति पाने में अप्रतिम रूप से सहायक सिद्ध हो सकते हैंl

जिस प्रकार हम हल्दी की गांठ, पीली सरसों ,राई ,काली मिर्च और लोंग आदि का प्रयोग विभिन्न प्रकार की क्रियाओं में प्रयोग में लाते हैंl उसी प्रकार काली गुंजा का भी प्रयोग किया जाता है lआज आज का मानव धन को प्राप्त करने के लिए विविध क्षेत्रों में संलग्न है, तथा धन के स्थायित्व को प्राप्त करने के लिए कई प्रकार के उपाय या टोटके उसके द्वारा अपनाया जाता है।

काली गुंजा वैसे भी बहुत अधिक चमत्कारिक गुणों से युक्त माना जाता है, जो टोटको एवं तांत्रिक क्रियाओं में एवं विभिन्न प्रकार की चीजों में भी प्रयोग में लाया जाता हैl वैसे तो काली गुंजा के बारे में कहा जाता है, कि यह किसी भी तरह के संकट के आने के पूर्व अपने रंग तक को परिवर्तित कर देता हैl इसके माध्यम से यह उपयोगकर्ता को आने वाले संकट के लिए पूर्वानुमान प्रदान करता है,जिससे व्यक्ति विशेष कई प्रकार के कष्टकारी एवं असमंजस युक्त चीजों से अप्रभावित रहता है,पूर्ण रूप से यह उपयोगकर्ता को सुरक्षा प्रदान करता

इसे भी पढ़े:- ओपल रत्न क्या है?

काली गुंजा के टोटके –

1 . यदि आप किसी खास कार्य के लिए निकल रहे हैं, और आप चाहते हैं, कि उस कार्य में आप को पूर्ण रूप से सफलता प्राप्त हो किंतु यदि आप किसी भी तरह की तांत्रिक क्रियाओं से ग्रसित है, या आपके ऊपर किसी भी तरह का किसी के माध्यम से किसी तरह की नकारात्मक क्रिया की हुई है, जिसके कारण आप अपने इच्छाओं को पूर्ण करने में असफलताओं की लंबी सूची देख रहे हैंl किसी भी रूप से आप सफल नहीं हो पा रहे हैंl आपके द्वारा किए जा रहे मेहनत का फल यदि आपको प्राप्त नहीं हो रहा हैl

ऐसे में काम धंधे की तलाश में या किसी भी तरह की प्रतियोगिता परीक्षा में या कोई भी शुभ कार्य जो चाहते हैं कि वह बिना किसी रूकावट के पूर्ण हो उस पर किसी भी तरह की कोई भी परेशानी खड़ी ना हो या उक्त स्थान पर जहां आप जा रहे हैंl वहां आपको किसी भी तरह की नकारात्मक विचारों वाले वातावरण का सामना ना करना पड़े या उस वक्त आपके ऊपर जो गंदी क्रियाएं की गई हैl  वह आविष्ट,ना हो पाए या किसी भी तरह की ऊपरी बाधा संबंधित चीजें यदि आप चाहते हैं, कि आपके ऊपर प्रभावित ना रहे।

इसे भी पढ़े:- लहसुनिया रत्न पहनने के फायदे 

ऐसी परिस्थिति में आपको काली गुंजा के कुछ दानों को लाना है, तथा सूर्यास्त के बाद संध्या बेला शनिवार की शाम को या रात्रि 8:00 बजे स्नानादि से निवृत्त होकर किसी भी तरह के शांत कमरे में बैठ जाए एवं काली गुंजा को गंगाजल से धुले उसके बाद उसके पास कुछ लॉन्ग की कलियां रख दे कुछ ब्रास के टुकड़े भी रखें, उसके बाद मन को शांत रख प्राणायाम करें l5 मिनट प्राणायाम करने के बाद शांत चित के साथ आपको सर्वप्रथम विघ्नहर्ता श्री गणेश जी का आशीर्वाद प्राप्त करें कि हे प्रभु मैं जिस भी कार्य के लिए इस गुंजा को अभिमंत्रित करने जा रहा हूंl उसमें सफल हो जाऊं उसके बाद आप बाबा भैरव को नमन कर उन से विनती करें कि प्रभु मेरे कार्य में सफलता दिलाईए  एवं अपना आशीर्वाद प्रदान कीजिए l

उसके बाद निम्न मंत्रll “ओम भ्रं कालभैरवाय फट्“ll का उपांशु जप करें आप चाहें तो किसी विशिष्ट मुद्रा को लगाकर भी मंत्र का जाप कर सकते हैंl आप मंत्र को कम से कम आधा घंटा या 1 घंटा अवश्य जाप करें उसके बाद जब पूरा होने के बाद जो गुंजा आपने रखी हुई है,उस पर फूंक मारे उसके बाद लॉन्ग एवं ब्रास को जला दें यह क्रिया आपको लगातार बिना किसी अवरोध के अगले शनिवार तक पूर्ण करनी हैl उसके बाद यह गुंजा सिद्ध हो जाएंगे इस गुंजा में कई शक्तियां बाबा काल भैरव की समाहित हो जाएंगीl जिससे यह पूर्ण रूप से उच्च स्पंदन वाली होंगीl अब आप जिस भी कार्य की पूर्ति के लिए जाना चाहते हैं, तो जाने के समय अपने पूजा घर से इस गुंजा के कम से कम पांच दाने या 11 दाने ले ले और आप जिस भी स्थान पर अपनी परीक्षा देने जा रहे हैं ।

इसे भी पढ़े:- लाल हकीक पहनने के अदभुत फायदे 

किसी भी तरह के महत्वपूर्ण कार्य के संपन्न होने के उद्देश्य से जा रहे हैंl वहां उस स्थान पर पहुंचने के बाद उस गुंजा को वहां बिखरा दे यकीन मानिए आप इससे मिलने वाले चमत्कारिक प्रभाव से अचंभित रहने वाले हैंl यह हर तरह की परेशानी को रोक देता है तथा आप जिस भी मन वांछित कार्य की पूर्ति के लिए गए हैंl वे सभी कार्य अभ्युत्थित होंगीl यह किसी भी तरह के नकारात्मक शक्ति को उक्त स्थान पर प्रभावित होने नहीं देंगेl बाबा भैरव की कृपा से आपके सारे काम बन जाएंगे lआप इस चीज का प्रयोग चाहे तो किसी स्थान के नकारात्मकता को भी दूर करने के लिए प्रयोग में ला सकते हैं

2. जो लोग महालक्ष्मी की कृपा प्राप्त करना चाहते हैं,उन्हें गुंजा को सिद्ध करने के लिए शुक्रवार को ब्रह्म मुहूर्त में उठकर स्नानादि से निवृत्त होकर गुंजा को पूजा स्थल में रखें तथा घी का दीपक जलाकर माता लक्ष्मी के समक्ष रखें काली गुंजा के कुछ दाने माता के समक्ष किसी प्लेट में रख दें तथा वहां पर कपूर तथा लॉन्ग काली मिर्च को जलाकर गुंजा की आरती करें l उसके बाद शांत चित्त कर 10 मिनट तक प्राणायाम करें तथा भगवान गणेश जी से अपने विधि में सफल होने की कामना करेंl उसके बाद उपांशु निम्न  माता लक्ष्मी का मंत्र का जाप कम से कम आधा घंटा या 1 घंटे या माला से यदि आप जाप करना चाहते हैंl

कमलगट्टे की माला से 11 माला जाप करें llॐ श्रीं ह्रीं क्लीं श्री सिद्ध लक्ष्म्यै नम:ll आपको यह क्रिया कम से कम 21 दिन तक पूर्ण करनी हैl इसके बाद आप इसे अपने सुरक्षित तिजोरी में रख सकते हैं, या आप किसी व्यापार में हो या किसी तरह की रोजी रोजगार में हो तो आप इसे लाल कपड़े में भी बांधकर अपने कार्यस्थल में रख सकते हैं lइसके प्रभाव बहुत चमत्कारिक होते हैं,इससे कभी भी किसी के जीवन में कर्ज जैसी स्थिति उत्पन्न नहीं होती हैl सभी तरह के भौतिक सुख संसाधनों की प्राप्ति होती हैl

मित्रो यदि आप भी अभिमंत्रित किया हुआ काली गुंजा प्राप्त करना चाहते हैं जो हमारे पंडित जी द्वारा अभिमंत्रित करके प्राप्त करे मात्र – 250₹ में 11 पीस जिसका आपको लैब सर्टिफिकेट और गारंटी के साथ में दिया जायेगा (Delevery charges free)Call and WhatsApp on- 7567233021

 

Leave a Reply