पन्ना धारण करने का मंत्र – Panna Dharan Karne Ka Mantra

पन्ना धारण करने का मंत्र – Panna Dharan Karne Ka Mantra

 

पन्ना धारण करने का मंत्र –

पन्ना धारण करने का मंत्र हमें अच्छे से पता होना चाहिए तभी तो हम उसे अभिमंत्रित कर उसका अत्यधिक लाभ उठा सकेंगे पन्ना रत्न में छुपी हुई गुप्त एवं अपार शक्तियों को जागृत कर सकेंगे।

पन्ना रत्न हमारे बुद्धि विवेक का संचालक होता है, यह हमारी बुद्धि को त्वरित गति से चलाता है, इसके बिना दुनिया का कोई काम करना असंभव है, यह रत्न हमारे बुध ग्रह के द्वारा दिए जा रहे नकारात्मक प्रभाव को दूर कर उसे सकारात्मक प्रभाव में बदलता है, यह रत्न हमारे बुध ग्रह को काफी मजबूत बनाता है, जिससे लाभ उठाते हैं, और अपना जीवन सवारने में सक्षम होते हैं, लोगों के बीच यह रत्न बहुत उपयोगिता रखता है, इसके इतने अनगिनत लाभ हैं, कि शायद उन सभी लाभो को की गणना करना हमारे बस की बात नहीं है, इस रत्न को धारण करने से लोगों को निम्नलिखित लाभ प्राप्त होता है।

इसे भी पढ़े:- मोती रत्न के चमत्कारी फायदे, असली नकली की पहचान एवं धारण करने की विधि 

1. इस रत्न को धारण करने से हमारा जीवन सुगम एवं सफल होता हैl
2. इस रत्न को धारण करने से विभिन्न प्रकार की त्वचा संबंधित बीमारियां जो हमें जकरती जा रही थीl जिनका समाधान हम कर कर के थक चुके थे lइसे धारण करने से उन सभी से हमें छुटकारा मिलता हैl यह रत्न हमारे त्वचा को चमकदार बनाता है, आकर्षक बनाता है, इसलिए बहुत से लोगों के द्वारा यह रत्न धारण किया जाता है, लोग अपने आप को आकर्षक दिखने के लिए इसे धारण करते हैंl
3. यह रत्न धारण करने से हमें वैभव की प्राप्ति होती है, सुख संपदा बढ़ता हैl
4. जिस भी जातक के द्वारा यह रत्न धारण किया जाता है lउसमें वाणी के संबंधित विभिन्न प्रकार के दोष खत्म होते हैं, जैसे हकलाना ,किसी को गलत वचन बोलना आदि चीजों से हमें छुटकारा प्राप्त होता है, यह रत्न वाणी में मधुरता लाता हैl वाणी शहद के समान मीठी हो जाती है, और लोग हमारी बातों से काफी प्रभावित होने लगते हैं।

5. यह रत्न हमें मानसिक रूप से बहुत मजबूत बनाता है, चाहे परिस्थिति कोई भी हो हम मुस्कुराना हंसना नहीं छोड़ते हैंl यह रत्न हमारे अंदर नकारात्मकता के भाव को टिकने नहीं देता हैl पनपने नहीं देता है, जिससे बड़ी से बड़ी परिस्थिति में भी हम मुस्कुराना नहीं छोड़ते हैं, तथा हमारे चेहरे पर हमेशा ही एक मुस्कान खिली रहती है, और मन मस्तिष्क में भी शांति का वास होता है, किसी प्रकार की नकारात्मक विचार हमारे मन में नहीं आते हैं।

इसे भी पढ़िए:- गोमेद रत्न पहनने की विधि 

6. यह रत्न हमें शारीरिक रूप से भी खूबसूरती प्रदान करता है, हमारी काया का रूपांतरण करता है, हमें मनवांछित काया प्रदान करता है।
7. इस रत्न को धारण करने से हमारे व्यक्तित्व का एक नवीन रूपांतरण होता है, एवं हमारे अंदर आकर्षण शक्ति कि वृद्धि होती है, जिससे लोग हमारी ओर खींचे चले आते हैं, लोग हमारी बातों को सुनते हैंl हमें मान आदर देते हैं, हमारी वाणी उनका मन मोह लेती है।
8. इस रत्न को धारण करने से एकाग्रता शक्ति बढ़ती है lस्मरण शक्ति में वृद्धि होती है, तथा हमारी कार्य करने की शैली या पद्धति बदलती है, जिससे हमारा लक्ष्य हमें जल्द ही प्राप्त होने की संभावना बढ़ जाती है lविद्यार्थी वर्ग या ऐसे परीक्षार्थी जो किसी भी तरह की प्रतिस्पर्धा में भाग लेने वाले हैं lउन लोगों के लिए तो यह जैसे किसी वरदान से कम नहीं हैl यह रत्न सफलता दिलाने के लिए बहुत कारगर होता है।

9. यह रत्न हमारे भौतिक सुखों में वृद्धि करता है।

10. इस रत्न को धारण करने वाले जातकों में बच्चे के समान चंचलता एवं मासूमियत होती है, जिसकी और लोग निश्चल भाव से आकर्षित होते हैं।

इसे भी पढ़िए:- स्फटिक की माला के 10 चमत्कारी फायदे 

11. यह रत्न नौकरी पेशा व्यापारिक वर्ग के द्वारा उनके व्यवसाय में तरक्की होने के लिए धारण किया जाता हैl वह लोग इसे धारण इसलिए करते हैं, ताकि उन्हें किसी भी प्रकार की रुपए पैसों संबंधित परेशानियों का सामना करना ना पड़े तथा उनका नाम हो।

12. इस रत्न को धारण करने वाले लोगों में कार्यशैली की विभिन्न पद्धतियों में रूपांतरण या नयापन देखने को मिलता है, जिससे वह अपनी सफलता की गाथा लिखने में सफल हो पाते हैं।

13. इस रत्न को धारण करने से रचनात्मक शक्ति बढ़ती है, जिससे लोग अपनी रचनात्मक शक्ति को धरातल पर उतार कर अपने सपनों को पूरा करते हैं, एवं अपने लक्ष्य को प्राप्त करते हैं।

14. इस रत्न को धारण करने से मानसिक शक्ति तथा बौद्धिक शक्ति का विस्तार होता है, जो विभिन्न पहलुओं पर सकारात्मक प्रभाव डालते हैं।

15.इस रत्न को धारण करने से बुद्धि में वृद्धि होती हैl हमारी बुद्धि तेजी से कार्य करती है, तथा विकट से विकट परिस्थिति में भी निर्णय लेने की क्षमता मजबूत होती है।

16. इस रत्न को धारण करने से हमारे घर परिवार के लोगों के साथ हमारे स्वभाव हमारे रिश्ते मधुर होते हैं।

इसे भी पढ़िए:- हरा हकीक पहनने के फायदे 

17. पन्ना रत्न धारण करने से हमारे संचार के माध्यम में सुधार होता है, एवं उसमें स्पष्टता आती हैl मधुरता आती है, जिससे लोगों के साथ हमारा जुड़ाव अच्छे से होता है, हमारा संबंध अच्छे से स्थापित हो पाता है।

18. पन्ना रत्न के प्रभाव से हमारे लेखन शैली में भी विकास होता हैl एक अद्भुत शक्ति हमें प्राप्त होती है, जिससे हमारी लेखनी बहुत प्रभावशाली होती है, बहुत अच्छी होती है।
19. पन्ना रत्न को धारण करने से हमारी कल्पना शक्ति मजबूत होती है, तथा अन्वेषक शक्ति में भी वृद्धि होती है, वाकपटुता की कला से यह जगजीत ने वाले होते हैं।

पन्ना रत्न धारण करने से पूर्व उसे अभिमंत्रित किया जाता है, जिससे हम उसके लाभ को अच्छे से प्राप्त कर सके इसलिए बुध ग्रह का मंत्र इस प्रकार से है-

20. ओम ब्राम ब्रिम ब्रोम शह बुद्धाय नमः
21. ओम ऐंग श्रीम श्रीम बुद्धाय नमः
22. ओम बूम बुद्धाय नमः
23. बुध त्वम बुद्धि जानको बोधदह सर्वदा नृणामl
तत्वाव बोधम कुरूसे सोम पुत्रह नमो नमःll

Leave a Reply