मून स्टोन क्या है – Mun stone Kya Hai

मून स्टोन क्या है – Mun stone Kya Hai

 

मून स्टोन क्या है –

मून स्टोन क्या है- मूनस्टोन जिसे चंद्रमणि के नाम से भी अलंकृत किया जाता है, तथा इसके गुणों की वजह से इसे गोदंती या चंद्रकांत के नाम से भी जाना जाता हैl चंद्र ग्रह की कृपा जिस तरह मोती रत्न धारण करने से प्राप्त होती है lउसी प्रकार मूनस्टोन को भी धारण करने से चंद्र देव की शीतलता एवं उनकी कृपा हमें प्राप्त होती हैंl इसे मून स्टोन इसलिए भी कहा जाता है, क्योंकि इसकी आभा बिल्कुल चंद्र के समान ही प्रतीत होती है, तथा जब भी इस पर प्रकाश की किरणें पड़ती है, तो यह प्रकाश को अवशोषित करने की बजाए परावर्तित कर देता है।

इसे भी पढ़े:- फिरोजा रत्न के अदभुत फायदे 

इसकी कांति कभी-कभी मोती रत्न के समान भी होती है, जिसकी वजह से मून स्टोन भी बहुत कीमती होता हैl मोती के स्थान पर मूनस्टोन को भी धारण करना उतना ही फलदाई सिद्ध होता है, जितना कि मोती रत्न विश्व के विभिन्न देशों से यह रत्न प्राप्त होता है, जैसे -भारत, श्रीलंका मेडागास्कर ,म्यानमार आदि, इसका उपयोग मुख्यतः विभिन्न प्रकार के सुंदर एवं आकर्षक आभूषण बनाने में किया जाता हैl

जिस प्रकार पृथ्वी पर सूर्य का आधिपत्य स्थापित है, तथा पूरे ब्रह्मांड का पिता के रूप में सूर्य ग्रह को जाना जाता है, उसी प्रकार चंद्र जो कि पृथ्वी का उपग्रह हैl चंद्रमा जो बीज औषधि जल मोती मोती दूध अश्व एवं मन का प्रतिनिधित्व करता हैl चंद्र का प्रभाव सबसे अधिक पृथ्वी पर पूर्णिमा के दिन में जब पूरा आकाश चंद्र की रोशनी से नहा उठता है, तब बहुत सी घटनाएं घटती हैl समुद्र में ज्वार भाटा भी चंद्र के गुरुत्वाकर्षण बल के कारण ही उत्पन्न होता हैl मन का कारक चंद्रमा किसी के साथ चित्र का कारण भी हो सकता है, तथा किसी के बेचैनी का कारक भी हो सकता हैl चंद्रमा मुख्यतः मन एवं माता का कारक होता है, चंद्र का दूसरा रूप माता को ही निरूपित किया जाता है।

इसे भी पढ़े :-  मोती रत्न किसे पहनना चाहिए 

चंद्र जिसकी कृपा जातक के जीवन को पूरी तरह से बदलने की क्षमता रखती है, यही कारण है, कि चंद्रमा तथा बृहस्पति ग्रह के द्वारा निर्मित गजकेसरी योग बहुत शुभ फलदाई होता हैl यह योग समृद्धि को बढ़ाने वाला होता है, तथा जिस जातक की जन्मपत्री में यह योग होता है lवह व्यक्ति बहुत शांत चित का होता है, तथा अपनी पूजनीय माता श्री के प्रति बहुत आदर भाव एवं भावनात्मक रूप से विशेष लगाव रखता हैl यह योग जातक के लिए प्रसिद्धि एवं ऐश्वर्य की प्राप्ति में विशेष रुप से कारगर सिद्ध होता हैl

विभिन्न आकाशीय पिंडों के कृपा प्राप्त करने के लिए तथा उनके दुष्प्रभाव को दूर करने के लिए पृथ्वी पर अनेक रत्न एवं उपरत्न पाए जाते हैं, जैसे शनि के दुष्प्रभाव को दूर करने के लिए नीलम धारण किया जाता है, जैसे- गुरु की कृपा प्राप्त करने के लिए पुखराज या टोपाज धारण किया जाता है, उसी प्रकार चंद्र की कृपा पाने के लिए एवं उसके दुष्प्रभाव को पूरी तरह से नष्ट करने के लिए मोती रत्न या उसका उपरत्न मून स्टोन धारण किया जाता हैl मूनस्टोन जिसे चंद्रमणि से भी अलंकृत किया जाता है, चंद्र के समान ही यह दूधिया रंग का होता है।

इसे भी पढ़े:- लाल हकीक पहनने के फायदे 

खराब चंद्र के बहुत से दुष्प्रभाव देखने को मिलते हैं, जैसे माता को स्वास्थ्य से संबंधित परेशानियां होने लगती है तथा घर के जल स्रोतों में भी खराबी होना शुरू हो जाता है, या फिर जलस्रोत पूरी तरह से सूख जाते हैंl मानसिक रोगों में वृद्धि होती है, तथा दिमाग बेकार के चिंताओं में उलझा रहता हैl इसके साथ-साथ महसूस करने की क्षमता भी धीरे-धीरे समाप्त होने लगती है, व्यक्ति के आसपास कौन सी घटनाएं घट रही है, उससे वह पूरी तरह से अनभिज्ञ हो जाता हैl व्यक्ति को परिस्थितियां बार-बार आत्महत्या की ओर अग्रषित करने लगती हैl बाया नेत्र संबंधित विकार होने लगता हैl इसके साथ साथ स्मरण शक्ति कमजोर होने लगती हैl बहुत अधिक घबराहट शंका एवं कोई अनजाना भय हर वक्त सताता रहता हैl सर्दी- जुखाम, फेफड़े संबंधित रोग ,मानसिक अवसाद जैसे रोग से व्यक्ति ग्रसित होने लगता हैl

चंद्रमा के द्वारा दी जा रही पीड़ाओ को दूर करने के लिए तथा उससे संबंधित विभिन्न प्रकार की बीमारियों में स्वास्थ्य लाभ प्राप्त करने के लिए मून स्टोन धारण किया जाता है । मून स्टोन धारण करने से चित पूरी तरह से शांत होता हैl यह स्टोन सकारात्मक शक्ति के संचार को बढ़ा देता है, जिससे नकारात्मक विचार स्वयं ही नष्ट होने लगते हैंl जातक का उसकी माता के साथ संबंध सुधरने लगते हैं एवं हर प्रकार के वैचारिक मतभेद पूरी तरह से समाप्त होते हैंl यह स्टोन सर्दी जुकाम, मिर्गी, अवसाद जैसी स्थिति को पूरी तरह से नष्ट करने की क्षमता रखता हैl नेत्र संबंधित विकार में भी यह उपरत्न बहुत सहायक सिद्ध होता है।

इसे भी पढ़े:- स्फटिक श्री यंत्र के फायदे 

मन को पूरी तरह से केंद्रित करने शक्ति प्रदान करता हैl घर परिवार में स्थित तनाव की स्थिति को पूरी तरह से यह नष्ट कर देता है तथा घर परिवार के लोगों के बीच प्रगाढ़ प्रेम उत्पन्न करता है, जिससे घर एवं परिवार के लोग सुखी एवं संपन्न होने लगते हैl परिवार के लोगों में आपसी सहयोग की भी वृद्धि होती हैl बच्चों के द्वारा यदि मून स्टोन धारण किया जाता है, तो उनकी एकाग्रता शक्ति में वृद्धि होती हैl इसके साथ-साथ उनका स्मरण शक्ति भी बहुत बढ़ता हैl

यह रत्न आर्थिक स्थिति को सुधारने में भी बहुत मदद करता है, तथा कई लोगों के द्वारा तो मूनस्टोन को विधिवत तरीके से अभिमंत्रित एवं प्रतिष्ठित कर तिजोरी या पूजा के अस्थल पर विशिष्ट रूप से रखा जाता है, जिससे उनके घर परिवार के लोगों पर चंद्र देव की कृपा प्राप्त होती रहे, इसके साथ-साथ मां लक्ष्मी की भी कृपा उनके ऊपर बरसती रहेl यह रत्न हमें दूसरे की भावनाओं को समझने में बहुत मदद करता है, इसके साथ-साथ अपने भावनाओं को स्पष्ट रूप से व्यक्त करने की क्षमता भी यह प्रदान करता हैl यह रत्न हमें आत्मीयता का बोध प्रदान करता हैl भावनात्मक रूप से यह रत्न हमें मजबूत बनाता हैl

मित्रो यदि आप भी अभिमंत्रित किया हुआ मून स्टोन प्राप्त करना चाहते हैं तो हमारे नवदुर्गा ज्योतिष केंद्र से पंडित जी द्वारा अभिमंत्रित किया हुआ मून स्टोन मात्र – 50₹ रत्ती मिल जायेगा जिसका आपको लैब सर्टिफिकेट और गारंटी के साथ में दिया जायेगा (Delevery Charges free) Call and WhatsApp on- 7567233021

 

Leave a Reply