जमुनिया के लाभ , jamuniya ke labh

जमुनिया के लाभ , jamuniya ke labh

जमुनिया के लाभ (jamuniya ke labh)

जमुनिया के लाभ(jamuniya ke labh) – जमुनिया स्टोन को कटेला कहते हैं और अंग्रेजी भाषा में एमेथिस्‍ट स्टोन भी कहा जाता है। इसके रंग जमुनिया होने के कारण, इस स्टोन को जमुनिया कहा जाता है। तो आज हम बात करने वाले हैं जमुनिया के कुछ खास बातें और साथ ही साथ इसके लाभ के बारे में बात करने वाले हैं। की जमुनिया रत्न कितना लाभकारी है। हमारे जीवन के लिए और औरों के जीवन के लिए कितना लाभकारी है। साथ ही साथ यह भी बात करने वाले हैं। कि जमुनिया रत्न किन किन रोगों से छुटकारा दिलाती है।

इन सभी बातों को जानने के साथ-साथ यह भी जानेंगे कि जमुनिया हमें किन- किन बीमारियों का निवारण करने में मदद कर सकता है। सबसे पहले यह जानते हैं, कि जमुनिया क्या है? आपको हम यह बता दें कि पहले जमुनिया बहुत ही अधिक बेशकीमती रत्न हुआ करता था। लेकिन जमुनिया रत्न की प्रचुरता में उपलब्ध होने के कारण इसे सेमी प्रेशियस स्टोन में रखा गया है। आपकी जानकारी के लिए मैं आपको यह बता दूं, कि यह बेहद ही सुभ और प्रभावशाली रत्न हैं। इस रत्न को ज्योतिष्य लाभ के अलावा ज्वेलरी बनाने में भी इस स्टोन का इस्तेमाल किया जाता है।

इसे भी पढ़ें – कार्यों में सफलता, व्यापार में वृद्धि एवं सभी परेशानियों से छुटकारा हेतु धारण करें पीताम्बरी नीलम 

जमुनिया रत्न बहुत ही शुभ माना जाता है। जमुनिया रत्न बहुत ही अधिक शक्तिशाली होती है। इस जमुनिया रत्न को धारण करने से आपके हर बीमारियों का इलाज हो जाता है। आपके हर मुसीबतों का समाधान हो जाता है। ऐसा कहा जाता है, कि अगर कोई बीमार व्यक्ति इस जमुनिया रत्न का इस्तेमाल कर ले तो उसकी बीमारी बहुत ही जल्द ठीक हो जाता है। अगर कोई व्यक्ति दुखों से घिरा है, तो वह भी इस जमुनिया रत्न का इस्तेमाल करके अपने दुखों से छुटकारा पा सकता है। इन सभी के लिए जमुनिया बहुत ही खास माना जाता है।

जमुनिया के लाभ(jamuniya ke labh)

उत्तर:- जमुनिया रत्न का ग्रह शनि हैजमुनिया रत्न नीलम रत्न का उपरत्न है। शनि ग्रह का प्रमुख रत्ना नीलम को माना जाता है। और शनि ग्रह के उपरत्न के रूप में जमुनिया को माना जाता है। मनुष्य के जीवन में तो मुसीबत और मुश्किल वक्त तो आता ही है और हर मनुष्य अपना मुसीबत से और मुश्किल वक्त से लड़ता है और जीतता भी है। लेकिन कुछ ऐसे लोग हैं, जो मुसीबत को देखते हैं तो वह उस मुसीबत से भागना चाहते हैं। पर उन्हें यह नहीं पता कि हम अगर इन मुसीबत से लड़ेंगे तभी तो आगे बढ़ पाएंगे।

हमारी जिंदगी एक गेम की तरह जब तक हम अपना एक स्टेप पुराना कर ले तब तक हम दूसरे स्टेट पर नहीं जा सकते हैं। और कई लोग अपने इन मुसीबतों से लड़ते हैं। पर वह बीच में ही हार मान जाते हैं। जिसके कारण उन्हें उस मुसीबत में सफलता नहीं मिल पाता है। वह अगर इस मुसीबतों का सामना करे तो हो सकता है। कि अगला स्टेप में वह जीत जाए पर वे लोग जीतने की कोशिश नहीं करते बहुत ही जल्द हार मान जाते हैं। अगर आप भी ऐसे हैं और आपके पास अभी बहुत मुसीबत और बहुत कठिनाइयां है।

इसे भी पढ़ें – स्फटिक की माला के 10 चमत्कारी फायदे

तो आपको जमुनिया रत्न आपकी मुश्किल परिस्थितियों से और आप की कठिनाइयों से लड़ने के लिए एक अद्भुत शक्ति, हिम्मत और आत्मविश्वास प्रदान करता है। जिससे कि आप अपने उन परिस्थितियों से लड़ सके और उसमें विजई हो सके। अगर कोई व्यक्ति अपनी जिम्मेदारियों को गंभीरता से नहीं लेता है और वह अपने जिम्मेदारियों से पीछे भागता है। तो उस व्यक्ति को जमुनिया रत्न पहनना चाहिए। इससे उस व्यक्ति को अपनी जिम्मेदारियों का एहसास हो जाता है और वह अपनी जिम्मेदारी खुद लेना शुरू कर देता है अक्सर हम यह देखते हैं।

कि कई लोग अपनी जिम्मेदारियों से भागते हैं। वह अपना जिम्मेदारी लेना नहीं चाहते हैं। पर वह यह भूल जाते हैं। कि इंसान की जिंदगी में जिम्मेदारियां होती है और उनकी जो जिम्मेदारी है उन्हें उठानी ही पड़ती है। अगर वह शुरू से ही अपनी जिम्मेदारियों को समझ ले जान ले और जिम्मेदारियों को संभालना सीख ले तो आगे चलकर उन्हें कोई भी काम मुस्किल नहीं लगेगी। अगर हम अपनी जिम्मेदारी को अच्छे से निभाना सीख लेते हैं। तो हम उन परिस्थितियों से लड़ना भी सीख लेते हैं क्योंकि जिम्मेदारी हमें बहुत कुछ सिखा जाती है।

इसे भी पढ़ें:- सफेद गूंजा माला के फायदे जानकर हो जाओगे तुम हैरान

कैसे हमें किस परिस्थिति से लड़ना है और कैसे हमें अपने मुश्किलों का सामना करना है? इन सभी बातों को हमें सिर्फ जिम्मेदारी सिखा सकती है। अगर आप अपनी जिम्मेदारी को लेना चाहते हैं और निभा नहीं पाते अपनी जिम्मेदारी को तो आप जमुनिया रत्न पहन ले इससे आपको आपकी जिम्मेदारी समझने में और अपनी जिम्मेदारी पूरा करने में आपको काफी लाभ मिलता है और उस व्यक्ति की सोचने समझने की शक्ति अधिक बढ़ जाती है और फिर वह व्यक्ति अपने जीवन की हर एक फैसला खुद चयन कर सकते हैं। उसे उसकी जिंदगी में क्या चाहिए? वह उस व्यक्ति को पता चल जाता है और फिर वह व्यक्ति अपना डिसीजन खुद लेना शुरू कर देता है। ना कि दूसरों पर निर्भर रहता है।

जमुनिया के लाभ (jamuniya ke labh)

उत्तर:- जमुनिया का लाभ उस व्यक्ति को अपनी बुरी आदतों को छुड़ाने में मदद करता है। हम अक्सर यह देखते हैं। कि कई लोगों को शराब की बुरी आदत लग जाती है। कई लोगों को सिगरेट की बुरी आदत लग जाती है, जो कि अगर इस आदत को कोई भी व्यक्ति अपना ले तो उस व्यक्ति से इस आदत को छुड़ा पाना बहुत ही मुश्किल होता है। जिससे कि यह व्यक्ति इन चीजों को इतना अधिक सेवन करने लग जाता है। जिससे कि उसका स्वास्थ्य खराब हो जाता है। कभी-कभी तो यह बुरी आदत उसके जीवन को भी ले लेता है।

उस व्यक्ति का जीवन इस शराब और नशे का शिकार हो जाता है। तो इन सभी चीजों से छुटकारा पाने के लिए आप जमुनिया रत्न को पहन सकते हैं या उसका इस्तेमाल आप किसी भी चीज में कर सकते हैं। इससे आपको आपकी इन बुरी आदतों से छुटकारा पाने में काफी लाभ होगा और आप बहुत ही जल्द यह देख पाएंगे कि आपने जो बुरी आदतें थी। वह काफी कम हो गई और आप में अच्छी आदतें

आना शुरू हो जाता है। फिर आप अपने जीवन में इन बुरी आदतों को दोहराना भी नहीं चाहते हैं। फिर आप एक अच्छे इंसान बन जाते हैं। आपके इन सारी बुरी आदतों से छुटकारा पा लेते हैं और फिर आप काफी खुश दिखने लगते हैं और वाकई में आप बहुत खुश रहते हैं। आपके चेहरे पर उस वक्त बनावट कि खुशी नहीं रहती है। बल्कि वह हकीकत की खुशी रहती है।

मित्रों यदि आप अभिमंत्रित किया जमुनिया रत्न प्राप्त करना चाहते हैं तो हमारे नवदुर्गा ज्योतिष केंद्र से अभिमंत्रित मात्र -150 रु रत्ती मिल जाएगा, लैब सर्टिफिकेट और गारंटी कार्ड साथ में दिया जाएगा साथ ही साथ मुफ्त में अभिमंत्रित भी करके दिया जाएगा – Call and Whatsapp -7567233021

 

 

 

Leave a Reply