राहु यंत्र के लाभ – Rahu Yantra Ke Labh

राहु यंत्र के लाभ – Rahu Yantra Ke Labh

राहु यंत्र के लाभ, Rahu Yantra Ke Labh

राहु यंत्र के लाभ से छाया ग्रह राहु(Rahu Yantra) के द्वारा उत्पन्न किए जा रहे निकृष्ट प्रभाव को पूर्ण रूप से नष्ट किया जा सकता है। राहु जो कि एक तामसिक ग्रह की श्रेणी में आता है, जो प्रत्येक मनुष्य के जीवन में अनैतिक कृत्य के लिए प्रेरित करता है, या उन्हें अनैतिक चीजों में लिप्त होने के लिए प्रेरित करता है ।ऐसे राहु(Rahu Yantra)  को शांत करने का उपाय के रूप में राहु यंत्र(Rahu Yantra) का प्रयोग किया जा सकता है।राहु वर्तमान में कलयुग का सबसे मजबूत ग्रह के रूप में जाना जाता है ।यह एक ऐसा ग्रह है, जो किसी की जीवन की दिशा एवं दशा को सबसे त्वरित गति से बदलने की क्षमता रखता है ।यह व्यक्ति को अथाह धन प्राप्त कराने की असीम क्षमता प्रदान करने वाला ग्रह है।

असाधारण तार्किक शक्ति का स्वामी राहु ग्रह को कहा जाता है ।यह ग्रह सहज ज्ञान में स्वधा लाने के लिए भी जाना जाता है, किसी भी क्षेत्र में मिलने वाले दीर्घ एवं उत्कृष्ट सफलता का कारक भी राहु(Rahu Yantra) ग्रह ही होता है, किंतु जब यह अपनी कुदृष्टि किसी के ऊपर डालता है, तो व्यक्ति को बहुत ही निकृष्ट अवस्था में लाकर खड़ा कर देता है। उसकी अवस्था ऐसी बना देता है, कि उसे अपने तन को ढकने के लिए भी कपड़े पर्याप्त नहीं पड़ते हैं।भाग्य की दृढ़ता उस व्यक्ति को बिल्कुल भी प्राप्त नहीं हो पाती है, जिस पर राहु की कुदृष्टि पड़ती है। जीवन में अचानक से कई दुख तकलीफों की प्रधानता होना एवं अनुचित चीजों के प्रति अधिक लगाव होना दर्शाता है, कि राहु(Rahu Yantra) ग्रह की विपरीत चाल से व्यक्ति ऐसे क्रियाकलापों में फस चुका है, और अब वह बाहर आने के लिए कितनी भी कोशिश कर ले, किंतु वाह तब तक बाहर नहीं आ सकता है, जब तक कि राहु की दशा में बदलाव ना आ जाए ।मानसिक तनाव अवसाद निर्णय जैसी चीजें प्रबल भावनात्मक होने लगते हैं।

राहु यंत्र के लाभ, Rahu Yantra Ke Labh

इसे भी पढ़ें:- जमुनिया रत्न कब पहने

व्यक्ति हर पक्ष पर स्वयं को कमजोर समझने लगता है।वह जीवन में वास्तविक चीजों के प्रभाव से काफी दूर जाने लगता है।   एक ऐसा नौ ग्रहों में छाया ग्रह है।जो किसी को पाताल से आकाश तक ले जाने की क्षमता रखता है। अर्थात यदि यह कहा जाए कि राहु(Rahu Yantra) किसी के भाग्य को कनक के समान चमका सकता है, तो इसमें कोई अतिशयोक्ति नहीं होगी ।ऐसा राहू(Rahu Yantra) जिसमें देवताओं को भी चलकर अमृत पान कर लिया हो ऐसे राहु की बुद्धि कितनी बलिष्ठ होगी उसकी चतुराई कितनी अधिक होगी ।इस बात का अंदाजा आप इसी चीज से लगा सकते हैं ।ऐसा ग्रह जो गोबर के ढेर को भी सोना में परिवर्तित करने की अविश्वसनीय क्षमता प्रदान कर सकता है?बुद्धि को असाधारण सोच प्रदान करने की ताकत वाला ग्रह राहु(Rahu Yantra)  को माना जाता है ।आइए जानते हैं, राहु यंत्र के उपयोग से क्या-क्या लाभ किसी को प्राप्त हो सकते हैं? कैसे यह किसी के लिए लाभदायक सिद्ध हो सकता है इसके द्वारा प्राप्त होने वाले लाभ? कैसे राहु के द्वारा उत्पन्न किए जा रहे कष्टकारी परिस्थितियों में बदलाव आता है आज हम इस लेख के माध्यम से जानेंगे-
राहु यंत्र के लाभ???

1. जिस व्यक्ति के द्वारा राहु यंत्र(Rahu Yantra) का उपयोग किया जाता है।उसे यह ग्रह आयुष्य प्रदान करता है।यह व्यक्ति को संपूर्ण हृदय से प्रत्येक दिशाओं से शुभ फल प्रदान करता है ।जीवन काल का स्वर्णिम खंड कि ओर उपयोगकर्ता को उन्मुख करता है। व्यक्ति का तार्किक ज्ञान हो या सहज ज्ञान सभी में आह्राद प्रदान करता है।

2. जब तक राहु(Rahu Yantra) की कृपा नहीं हो सकती है, तब तक कोई भी व्यक्ति आर्थिक रूप से दृढ़ता प्राप्त करने में असमर्थ रहता है, ऐसे में जिस भी व्यक्ति के द्वारा राहु यंत्र को प्रतिष्ठित कर रखा जाता है, उसे अपरिमित संपत्ति का स्वामित्व प्राप्त होता है। जातक का जीवन धनसंपदा ऐश्वर्य सुख समृद्धि से संपन्न बना रहता है।

राहु यंत्र के लाभ, Rahu Yantra Ke Labh

इसे भी पढ़ें:- दक्षिणाvarti शंख के फायदे

3. राहु यंत्र(Rahu Yantra) जिस भी स्थल पर प्रतिष्ठित कर स्थापित किया जाता है, या किसी व्यक्ति के द्वारा किसी भी तरह से उपयोग में लाया जाता हैl उस व्यक्ति के अस्तित्व में उल्लास परम स्वतंत्रता की अनुभूति आंतरिक गतिशीलता के साथ-साथ बाहरी गतिशीलता में उत्कृष्टता आती है।अनेक दिव्य सुगंधीयों का अनुभव व्यक्ति को जीवन के सच्चे सुखो से अवगत कराता है ।अंतःकरण शुद्ध होने के साथ-साथ नकारात्मक ऊर्जा का विनाश होता है, तथा सकारात्मक शक्ति का संचार बढ़ जाता है, जिससे कई प्रकार के राहु के द्वारा निर्मित खराब दोष एवं योगो का दुष्प्रभाव कम होने लगता है, जिससे जीवन में कई समस्याओं में कमी आने लगती है, तथा अवनति से मार्ग उन्नति की ओर प्रशस्त होने लगता है।

रोग ,शोक जैसी चीजें समाप्त होने लगती है।व्यक्ति के जीवन से अस्थिरता का भाव समाप्त होने लगता है।उसका जीवन सुखमय होने लगता है।संपूर्ण काया का कायाकल्प व्यक्ति को बदल कर रख देता है ।यह यंत्र व्यक्ति को बलवान एवं सशक्त बनाने में विभिन्न रूपों से बहुत ही प्रवीण माना जाता है ।व्यक्ति के नेतृत्व क्षमता उर्जा आत्मविश्वास जैसे उत्कृष्ट गुणों की प्रधानता को बढ़ाता है, तथा इसके विपरीत व्यक्ति के अंदर व्याप्त दोष जैसे- अहंकार ,उदासीनता ,क्रोध, ईर्ष्या पतित आचरण जैसी चीजों को नष्ट करता है।इसके इर्द-गिर्द कभी भी नकारात्मक शक्तियां व्हिच रन नहीं करती है lयह प्रेत बाधा से भी रक्षा करने में सक्षम होता है।

राहु यंत्र के लाभ, Rahu Yantra Ke Labh

इसे भी पढ़ें:- जमुनिया रत्न के फायदे

4. राहु(Rahu Yantra)  के प्रकोप से बचने के लिए सबसे उपयुक्त पद्धति के रूप में राहु यंत्र(Rahu Yantra) का प्रयोग किया जा सकता है, जो हमारे तनावपूर्ण जीवन को एक सुचारू रूप से बढ़ाने में सक्षम होता है ।यह यंत्र प्रत्येक नकारात्मक चीज से व्यक्ति विशेष की रक्षा करता है।इसके साथ साथ घोर विपत्ति एवं मुश्किल पैदा करने वाले वस्तु से भी व्यक्ति की रक्षा करता है। यह नजर दोष जैसी चीजों में भी बहुत प्रभावी माना जाता है। कालसर्प दोष से व्यक्ति के जीवन में आने वाले प्रतिक्षण उतार-चढ़ाव को भी यह रोकने की क्षमता रखता है, जब कोई व्यक्ति कालसर्प की दशा से गुजरता है, तब यह छाया ग्रह व्यक्ति की मानसिक अवस्था को बहुत अधिक निम्न अवस्था में पहुंचा देता है, जिससे व्यक्ति अपने होशो हवास को खो बैठता है।वह चाह कर भी इस स्थिति से बाहर नहीं निकल पाता है।

ऐसी स्थिति पर नियंत्रण प्राप्त करने के लिए राहु यंत्र बहुत ही उपयुक्त माना जाता है, या व्यक्ति के ज्ञान से उसके जीवन को दीप्तिमान बना देता है तथा विभिन्न क्षेत्रों में सफलता की सूची को बढ़ाने का कार्य भी करता है। मानसिक बीमारियों के साथ-साथ किसी प्रकार के भय से तथा शारीरिक बीमारियों से भी रक्षा प्रदान करता है ।राहु(Rahu Yantra)  के द्वारा उत्पन्न किए जा रहे जन्मपत्रिका में अशुभ प्रभाव को भी यह निष्क्रिय बना देता है।पितृ दोष जैसी समस्या के निवारण के रूप में भी यह यंत्र उत्तम माना जाता है।

राहु यंत्र के लाभ, Rahu Yantra Ke Labh

इसे भी पढ़ें:- लक्ष्मी यंत्र के फायदे

5. राहु यंत्र(Rahu Yantra)  का प्रयोग करने से आर्थिक क्षति कम होती है तथा व्यक्ति के कार्य प्रणाली में भी प्रखरता लाता है।शत्रुओं का दमन कर यह व्यक्ति को शत्रु विजय प्राप्त करने में मदद करता है।व्यक्ति जिस भी कार्य क्षेत्र में क्यों ना हो वह उन्हें शुभ फल प्रदान करता है, शुभ भाव की सुगंधा प्रदान करता है।ऐसे वर्ग के लोग जो शोध में जुड़े हुए हैं या किसी तरह के अविष्कार में लगे हुए रहते हैं, या तकनीकी चीजों में अपनी एक अलग पहचान बनाना चाहते हैं, या कोई प्रवक्ता है या कोई वकील है, या और कोई अभियंता है, उसके लिए भी यह राहु यंत्र(Rahu Yantra)  कई प्रकार के शुभ लाभ से युक्त माना जाता है।

 

Leave a Reply