हकीक माला का उपयोग – Hakik Mala Ka Upyog

हकीक माला का उपयोग – Hakik Mala Ka Upyog

 

हकीक की माला का उपयोग

हकीक की माला का उपयोग – नीला हकीक की माला- नीला हकीक जिसका प्रयोग शनि ग्रह की कृपा प्राप्त करने के लिए उपयोग में लाया जाता है, यह रत्न नीलम रत्न की जगह पर उपयोग किया जा सकता है।

इसे भी पढ़े:- मोती रत्न के लाभकारी फायदे

ऐसा माना जाता है, कि नीला हकीक की माला धारण करने से शनि ग्रह की स्थिति मजबूत होती है, तथा उनसे जुड़े हुए विभिन्न चीजों में जातक को सफलता प्राप्त होती है। शनि ग्रह जी ने आजीविका का कारक माना जाता है, तथा नौकरी पेशा संबंधित चीजें शनि ग्रह से ही संबंधित होती है।

इस माला को धारण करने से जीवन में स्थायित्व का बोध होता है, तथा धन उपार्जन के नए मार्ग बनते हैं, जिससे जातक की स्थिति सुधरती है, शनि के द्वारा प्रदान किया गया कोई भी शुभ फल स्थाई एवं दीर्घ अवधि के लिए होता है, क्योंकि शनि किसी को जल्द ही कोई भी चीज नहीं प्रदान करते हैं, पहले जातक की कठोर परीक्षा उनके द्वारा ली जाती है, उसके पश्चात ही उनके द्वारा मीठा फल प्रदान किया जाता है, जिन्हें मोक्ष गंभीरता तथा निरंतरता का प्रतीक माना जाता है, तथा जिन लोगों पर इनकी कृपा दृष्टि रहती है, वे लोग रहस्यमई विद्याओं की ज्ञाता होते हैं।

खराब शनि किसी को जेल यात्रा तक करवा सकता है, ख़राब एवं अशुभ फल जब शनिदेव देने पर आते हैं, तब जातक को विविध प्रकार से अपमान जैसी स्थिति झेलनी पड़ती है, एवं आलस्य तथा सुस्ती उसे चारों ओर से घेर कर उसके दैनिक क्रियाकलाप को भी और अधिक कठिनाई युक्त बना देते हैं, जिसकी वजह से अनेक शारीरिक कष्ट उसे उत्पन्न होने लगते हैं।

इसे भी पढ़िए:- सफेद गुंजा क्या है?

मानसिक तौर पर भी अनेक पीड़ाए उसे होने लगती हैl नीला हकीक की माला धारण करने से विभिन्न प्रकार के भय ,बाधाएं, आकस्मिक दुर्घटनाएं जातक के जीवन से दूर चली जाती है, इसके साथ-साथ यह माला दरिद्रता का नाश करता है, तथा उसकी आर्थिक संपन्नता में वृद्धि होती है।

1.काले हकीक की माला – काले हकीक की माला विभिन्न प्रकार की सिद्धियों में महारत हासिल करने के लिए उपयोग में लाया जाता है। विभिन्न प्रकार की साधना जैसे यक्षिणी साधना हो या अप्सरा साधना हो या और भी किसी भी प्रकार की उच्च कोटि की साधना सभी में इस माला का उपयोग किया जाता है।

इस माला का उपयोग करने से भगवान शिव शंभू बहुत प्रसन्न होते हैं, तथा विविध देवी देवताओं के मंत्रों को इस माला से सिद्ध किया जाता है, किसी जातक को यदि राहु केतु एवं शनि ग्रह तीनों के द्वारा अशुभ प्रभाव दिया जाता है, तब भी इस माला का प्रयोग किया जाता है, ताकि इन तीनों पापी एवं क्रूर ग्रहों के दुष्प्रभाव को कम किया जा सके।

इसे धारण करने से साहस में वृद्धि होती है, तथा दृढ़ इच्छाशक्ति भी बहुत मजबूत होती है, इसके साथ-साथ इस काले हकीक की माला की यह खासियत होती है, कि उपयोगकर्ता को विभिन्न प्रकार के ऊपरी बाधाओं जैसे -तंत्र- मंत्र, नजर- दोष, टोना- टोटका आदि चीजों से भी सुरक्षा प्रदान करता है यह एक संरक्षक के रूप में उपयोग करता की रक्षा करता है।

इसे भी पढ़िए:- नीलम रत्न पहनने के अदभुत फायदे 

इस माला का प्रयोग छोटे बच्चों चारों ओर सुरक्षात्मक घेरा तैयार करने के लिए उपयोग किया जाता है, जिससे बच्चे नकारात्मक लोगो एवं उनके नकारात्मक विचारों तथा किसी भी प्रकार की ऊपरी बाधा से बचे रहें एवं उनका स्वास्थ्य भी बहुत अच्छा रहे।

2.हरा हकीक की माला – बुद्ध से संबंधित पन्ना रत्न को धारण करने में यदि कोई जातक असमर्थ होता है, तो ऐसी स्थिति में उसके द्वारा हरे हकीक की माला धारण की जाती है, जिससे उसके जन्मपत्रिका में बुध की स्थिति मजबूत हो एवं उससे संबंधित विभिन्न परेशानियों का खात्मा हो सके। बुध जो हमारे बुद्धि एवं विवेक का कारक होता है। इस माला को धारण करने से जातक के स्वभाव में परिवर्तन होता है, तथा जातक की वाणी दोष भी पूरी तरह से शुद्ध होती हैl इसे धारण करने से जातक का स्वभाव से वीर बनता है।

इसके साथ -साथ उसकी बुद्धि को यह स्टोन कुशाग्र बनाता है, तथा जातक उदार हृदय वाला बनता है, एवं समाज में उसे खूब मान सम्मान की प्राप्ति होती है। उसके स्वभाव से लोग बहुत प्रभावित होते हैं, लोग उसकी वाणी एवं विचार के बहुत बड़े प्रशंसक होते हैं। बड़े से बड़े व्यक्तित्व वाले व्यक्ति को अपनी ओर आकर्षित करने की क्षमता यह रत्न जातक को प्रदान करता है, बुध जो अपनी वाली से सबका मन मोह लेता हैl यही कारण है, कि जो भी इसे धारण करता हैl उसकी प्रसिद्धि ख्याति समाज में बढ़ती है, तथा विभिन्न प्रकार के कलात्मक गुणों में वह निपुण होता है।

3.सफेद हकीक की माला- चंद्र जो अपने चंचलता एवं शीतलता के लिए जाना जाता है । सफेद हकीक की माला चंद्र से संबंधित चीजों के लिए प्रयोग में लाया जाता हैl सफेद हकीक की माला धारण करने से जातक की असमंजस वाली स्थिति समाप्त होती है, तथा पहले की समान उसका मन विचलित नहीं रहता है, तथा यह रत्न उसकी घबराहट को पूरी तरह से नष्ट कर देता है, इस स्टोन की माला धारण करने से जातक धैर्यवान बनता है, तथा कोई भी निर्णय भावना में बहकर नहीं लेता है। चंद्र से पीड़ित व्यक्ति मुख्यतः भावनात्मक रूप से निर्णय ले लेते हैं ।

इसे भी पढ़े:- स्फटिक की माला के 10 चमत्कारी फायदे 

जिसकी वजह से बाद में उन्हें बहुत बड़ी कीमत चुकानी पड़ती है, ऐसे में यह रखना उनके भावनात्मक स्तर को मजबूत बनाता है, तथा मानसिक स्थिति में भी वृद्धि करता है। ऐसे में इनके द्वारा लिया गया निर्णय पूरी तरह से तार्किक होता है बजाय की भावनात्मक हो। यह व्यक्ति को गहरी सोच वाला बनाता है। इसके साथ-साथ उसकी बुद्धि विवेक को भी निकालता है, तथा मुख के आभा को भी और अधिक निखारता है।

4.पीले हकीक की माला- गुरु ग्रह को मजबूत बनाने के लिए पीले हकीक की माला धारण की जाती है। इस माला को धारण करने से मान -प्रतिष्ठा में वृद्धि होती है। विभिन्न प्रकार के मांगलिक योगों का निर्माण करता है। आपके ज्ञान का प्रसार को बढ़ाते हैंl सुखी दांपत्य जीवन प्रदान करते हैंl इसके साथ-साथ धन संपदा की भी जातक को कमी नहीं रहती है, रूपए- पैसे संबंधित चीजों में भी जाता को काफी लाभ प्राप्त होता है, एवं उसकी आर्थिक स्थिति मजबूत होती है।

मित्रो यदि आप भी अभिमंत्रित किया हुआ काला हकीक की माला प्राप्त करना चाहते हैं तो हमारे नवदुर्गा ज्योतिष केंद्र से पंडित जी द्वारा अभिमंत्रित किया हुआ काला हकीक की माला मात्र – 700₹ में मिल जायेगी जिसका आपको लैब सर्टिफिकेट और गारंटी के साथ में दिया जायेगा (Delevery Charges free) Call and WhatsApp on- 7567233021

 

Leave a Reply