हकीक की माला के फायदे – Hakik Ki Mala Ke Fayde

हकीक की माला के फायदे – Hakik Ki Mala Ke Fayde

 

हकीक की माला के फायदे

हकीक की माला के फायदे- हकीक एक प्रकार का पत्थर है, जो विभिन्न रंगों में पाया जाता है, अलग-अलग रंगों के मनमोहक एवं आकर्षक हकीक लोगों के द्वारा विभिन्न प्रकार के आभूषणों को बनाने में प्रयोग में लाया जाता है, इस उपरत्न लोग अंगूठी पेंडेंट ब्रेसलेट आदि भी धारण करते हैं, इसे भाग्य को मजबूत बनाने वाला स्टोन कहा जाता है, तथा इसके अनेक लाभ हैं, यही वजह है, कि लोगों में यह बहुत लोकप्रिय होता हैl इस स्टोन की ऊर्जा कभी-कभी इतनी जागृत अवस्था में रहती है, कि उसमें चुंबकीय तत्व के गुणों की भरमार रहती हैl चुंबकीय गुणों युक्त यह स्टोन जब भी किसी चुंबक के पास ले जाया जाता है, तो यह आकर्षित हो जाता है, किसी- किसी में कम मात्रा में चुंबकीय तत्व पाए जाते हैं, ऐसी स्थिति में जब चुंबक उनके इर्द-गिर्द लेकर जाया जाता है, तो उसमें हरकतें होने शुरू हो जाती हैl वह गतिमान हो जाता है।
जिस प्रकार विभिन्न प्रकार के रत्न बहुत अधिक शक्तिशाली होते हैं, तथा उन्हें धारण करने पर लोगों को बहुत अधिक लाभ प्राप्त होता है, उसी प्रकार इस दिव्य रत्न के भी बहुत लाभ है, जो निम्न है:-

इसे भी पढ़े:- जरकन क्या है, इसके चमत्कारी फायदे, कौन धारण करें और धारण करने की विधि ?

1. व्यापार में वृद्धि हेतु उपाय- ऐसा माना जाता है, कि मां लक्ष्मी के मंत्रों उच्चायुक्त हकीक स्टोन को शुक्रवार के दिन यदि विधिवत तरीके से व्यापार स्थल पर रखा जाए तो व्यापार में बहुत अधिक वृद्धि होने लगती है। इसके साथ साथ कर्ज संबंधित समस्या का भी समाधान होता हैl आय के नवीनतम शोध बनते हैं। इसके साथ-साथ यदि उस स्थल पर किसी प्रकार की नकारात्मक ऊर्जा रहती है, तो भी यह कारगर सिद्ध होता है, तथा व्यापार में दिन दुगनी रात चौगुनी तरक्की करवाता है lमां लक्ष्मी की कृपा बनी रहती हो आर्थिक स्थिति धीरे-धीरे अच्छी होने लगती हैl बहुत से लोगों के द्वारा हकीक को प्रतिष्ठित कर तिजोरी एवं पूजा स्थल में भी रखा जाता है। इससे भी कभी उनके जीवन में अचानक आने वाली आर्थिक संकट नहीं आती है। यदि कभी ऐसी स्थिति उत्पन्न भी हो जाती है, तो वह बहुत ही अल्प होती है।

2.हकीक की माला का प्रयोग शिवजी के मंत्रों को अभिमंत्रित करने के लिए किया जाता है, ऐसा माना जाता है, कि हकीक के पत्थर से यदि इनके मंत्र जाप आ जाए तो शिव जी की कृपा जल्द ही प्राप्त होती है, एवं मंत्र पूरी तरह से सिद्ध हो जाता है। इसके साथ-साथ बाबा भैरव तथा मां काली के मंत्रों का भी जब इस माला के प्रयोग से किया जाता है। राहु ,केतु तथा शनि ग्रह के मंत्र का भी जाप इस माला से किया जाता है।

इसे भी पढ़िए:- अमेरिकन डायमंड क्या है?

3. शत्रु बाधा में भी यह माला बहुत प्रभावशाली होता है। इसके साथ साथ शत्रु विजय प्राप्त करने में भी यह बहुत बड़ी भूमिका निभाता हैl यदि कोई व्यक्ति प्रत्यक्ष एवं अप्रत्यक्ष शत्रु से बहुत अधिक कर परेशान है और उसके शत्रुओं के द्वारा ऐसे दैनिक जीवन में तो घात पहुंचाएं ही जा रहे हैंl इसके साथ-साथ यदि शत्रुओं के द्वारा किसी भी प्रकार का तंत्र मंत्र टोना टोटका का प्रयोग भी किया जा रहा है, तो उन सभी को यह बेअसर करने की क्षमता रखता है।

काले हकीक के एक पत्थर लेकर जातक के सिर से लेकर पांव तक 21 बार क्लॉक वाइज तथा 7 बार एंटी क्लॉक वाइज घुमा कर बाबा भैरव का मंत्र या मां बगलामुखी के मंत्र जब ते हुए ऐसा करें उसके पश्चात( यह क्रिया शनिवार के संध्या को ही करनी है, खुद पर से पत्थर को घुमाने से पूर्व कम से कम 108 मंत्र का जब अवश्य करें तथा उस पत्थर पर फूंक मारे) शनिवार की संध्या को किसी चौराहे या तीराहै के बीचो बीच रखकर घर वापस आ जाएl भूलकर भी पलट कर पीछे ना देखें तथा पत्थर रखते वक्त अपने दुश्मनों से पीछा छूट जाए, ऐसी कामना करते हुए पत्थर को रखेंl घर आकर यदि संभव हो तो स्नान कर ले या पानी के छींटे अवश्य मारे। यदि चौराहा या तिराहा नहीं मिल रहा है, तो किसी सुनसान स्थान पर आप इसे गार भी सकते हैं।

इसे भी पढ़िए:- पन्ना रत्न पहनने के अदभुत फायदे 

4. परीक्षा में सफलता हेतु- कोई भी विद्यार्थी जो पढ़ने में बहुत कमजोर है, या आलस्य एवं सुस्ती जैसा समस्या से ग्रसित है, या फिर भूलने की समस्या से ग्रसित है, या एकाग्रता की कमी है, ऐसी स्थिति में यह माला बहुत ही प्रभावशाली सिद्ध हो सकता हैl माला को अच्छे से गंगाजल से धूल कर मां मातंगी के मंत्रों का सुबह शाम जब उसी माला से किया जाए तथा बच्चा जहां पड़ता है, उस माला को वही टांगा जाए तो आपको चमत्कारिक रूप से परिवर्तन देखने को मिल सकता है। बच्चा पूरी तरह से अपने पढ़ाई की ओर केंद्रित रहता हैl इसके साथ-साथ परीक्षा में भी उसे अप्रतिम सफलता प्राप्त होती हैl यदि काले हकीक की माला भी बच्चे को धारण करवाई जाए विधिवत तरीके से तब भी इसके लाभ आश्चर्यजनक प्राप्त हो सकते हैं।

5. शारीरिक रूप से कमजोर या मानसिक रूप से कमजोर व्यक्तियों के लिए यह बहुत लाभदाई होता है। उपयोगकर्ता को यह शारीरिक रूप से बलिष्ट बनाता है। इसके साथ-साथ मानसिक क्रियाकलापों को तेज कर देता है, तथा मानसिक स्थिति को मजबूत बनाता है, जो जातक अवसाद जैसी स्थिति में है या अनिद्रा डरावने सपने आना या चिड़चिड़ा हट या किसी तरह की मानसिक परेशानी में है, तो उनके द्वारा यदि इसे विधिवत तरीके से धारण किया गया तब भी उन्हें अच्छे परिणाम देखने को मिल सकते हैं।

इसे भी पढ़े:- पीताम्बरी नीलम के 10 चमत्कारी फायदे 

6. छोटे बच्चों को इसे पहनाया जाता है, इसका प्रयोग बुरी नजर एवं नकारात्मक लोगों तथा खराब सोच से संबंधित चीजों के लिए इसे धारण करवाया जाता है।

7. इस रत्न का प्रयोग सुरक्षा एवं सफलता प्राप्त करने के लिए भी किया जाता है lयह हर ओर से उपयोगकर्ता को रक्षा प्रदान करता है, इसके साथ साथ सकारात्मक ऊर्जा का संचार भी बढ़ा देता है। सकारात्मकता बढ़ने की वजह से उपयोगकर्ता अपना पूरा ध्यान अपने कार्य की ओर ले जाता है, तथा उसमें दृढ़ता पूर्वक अपने कार्यों को पूर्ण करता है, जिससे उसकी सफलता की संभावना बहुत अधिक बढ़ जाती है, अपने कार्य के प्रति उपयोगकर्ता पूरी तरह से निष्ठावान होता है, तथा प्रेरणा से युक्त होता है।

8. यार अपना भाग्य को बहुत प्रबल बनाता है, तथा जीवन में संतुलन स्थापित करने में बहुत मदद करता है।

9. इसके औषधीय गुण भी कुछ कम नहीं है, यही कारण है, कि इसका उपयोग विभिन्न प्रकार की बीमारियों में भी किया जाता है, जैसे -मिर्गी आना, चक्कर आना, सिर दर्द ,त्वचा से संबंधित रोग या नेत्र से संबंधित कोई रोग या अधिक थकान सूजन आदि को भी दूर करने में इसका प्रयोग किया जाता है।

यदि आप भी अभिमंत्रित किया हुआ हकीक की माला प्राप्त करना चाहते हैं तो हमारे नवदुर्गा ज्योतिष केंद्र से पंडित जी द्वारा अभिमंत्रित किया हुआ हकीक की माला मात्र – 700₹ में मिल जायेगी जिसका आपको लैब सर्टिफिकेट और गारंटी के साथ में दिया जायेगा (Delevery Charges free) Call and WhatsApp on- 7568233021

 

Leave a Reply