12 मुखी रुद्राक्ष का मंत्र – 12 Mukhi Rudraksha Ka mantra

12 मुखी रुद्राक्ष का मंत्र – 12 Mukhi Rudraksha Ka mantra

 

12 मुखी रुद्राक्ष का मंत्र – 12 Mukhi

 Rudraksha Ka Mantra

12 मुखी रुद्राक्ष का मंत्र- (12 mukhi rudraksha ka mantra kya hai) 12 मुखी रुद्राक्ष तभी अपने पूर्ण फल प्रदान करता है, जब हम उसे सही तरीके से एवं उत्तम मुहूर्त में धारण करते हैंl भले ही ब्रह्मा जी के द्वारा लिखे गए प्रारब्ध को हम बदल नहीं सकते हैं lभले ही नियति के द्वारा जो भी हमारे भाग्य में लिख दिया गया हैl हम उसे बदल नहीं सकते हैं, किंतु ऐसी भी कोई चीज नहीं है, जो हम अपने इष्ट से मांगे और वह हमें ना दे सकेl ऐसा माना जाता है, कि प्रारब्ध से भी बड़ा हमारा कर्म है, इसलिए रेखाओं के आगे उंगलियों की रचना की गई है, जिससे कोई भी व्यक्ति विशेष कर्म को प्रधानता दे ना कि भाग्य कोl यह तो सर्वविदित है, कि विधाता का लेख कोई नहीं मिटा सकता है, किंतु हम कोई प्रयास भी ना करें ऐसे में तो सारी बातें ही निरर्थक हो जाएगी यही कारण है, कि प्रकृति यदि हमें किसी भी प्रकार का दुख कष्ट देती है, तो उस के उपलक्ष में हमें उसे दूर करने के लिए या कष्टों का निराकरण या दुखों का निराकरण करने के लिए हमें उपाय भी प्रकृति ही प्रदान करती है।

इसे भी पढ़े:- गोमेद रत्न किस दिन धारण करना चाहिए 

llऊं रों शों नम: ॐ नमःll

llऊं ह्रां ह्रीं ह्रूं स: सूर्याय नम: ll

12 मुखी रुद्राक्ष (12 mukhi rudraksha kaisa hota hai) एक ऐसा रुद्राक्ष है, जिस पर 12 विशिष्ट धारिया प्राकृतिक रूप से विद्यमान रहती हैl भगवान भोलेनाथ का अभिन्न अंग 12 मुखी रुद्राक्ष ना केवल महादेव की शक्तियों का प्रतिनिधित्व करती है, बल्कि जगत पिता जगदीश्वर लक्ष्मी नारायण की शक्तियां भी इसके अंदर समाहित होती हैl माता अन्नपूर्णा की साक्षात कृपा युक्त यह दिव्य मनका सृष्टि में प्राण शक्ति प्रदान करने वाले दीनानाथ की भी अधिपत्य युक्त होती है।

12 मुखी रुद्राक्ष (12 mukhi rudraksha ka upyog) जिस भी व्यक्ति विशेष के द्वारा उपयोग में लाया जाता हैl यह उसे हर ओर से सुरक्षा प्रदान करता है lयह उसकी आभा को तीव्रता प्रदान करता हैl उसकी बुद्धि विवेक में बढ़ोतरी करता हैl उसके ज्ञान ,तेज शक्ति में प्रखरता लाता है lसूर्य ग्रह की मजबूती से व्यक्ति को यश कृति की प्राप्ति होती है, चमत्कारिक व्यक्तित्व की प्राप्ति होती हैl व्यक्ति के मुख की चमक बढ़ती है।

इसे भी पढ़े:- जरकन क्या होता है?

12 मुखी रुद्राक्ष (12 mukhi rudraksha kya kaam karta hai) सभी प्रकार के भय बाधा को पूरी तरह से नष्ट कर देता है lसहस्त्र चिंताओं को खत्म कर देता हैl ऐसे लोग जो बहुत ही अभावात्मक जीवन शैली से ग्रसित हैl उन्हें 12 मुखी रुद्राक्ष से विभिन्न मंत्रों का जाप करना चाहिए, उनकी समस्त समस्याओं का समाधान होता है, तथा जीवन में जिन चीजों की कमी रहती है, जिन चीजों का अभाव रहता हैl उन सभी की परिपूर्णता जातक को प्राप्त होती है lविभिन्न प्रकार के भौतिक सुख संसाधनों को भी प्राप्त करने में यह बहुत ही उत्तम रूप से लाभप्रद माना जाता है।

1. 12 मुखी रुद्राक्ष (12 mukhi rudraksha dharan karne se kya hota hai) धारण करने से आध्यात्मिक जीवन में पूर्ण तृप्ति होती हैl ध्यान योग के विभिन्न आयामों में आगे बढ़ने हेतु अनेक प्रकार के गूढ़ ज्ञान एवं गूढ़ रहस्य को प्राप्त करने में यह बहुत ही अतुलनीय रूप से सहायक होता है lव्यक्ति की बौद्धिक विकास क्षमता एवं रचनात्मक शक्ति में यह उत्कृष्टता प्रदान करता है।

2. 12 मुखी रुद्राक्ष (12 mukhi rudraksha ki jankari) सूर्य के पुरुषोचित प्रभाव के कारण होने वाले कई प्रकार की हानियों को यह पूरी तरह से नष्ट करता है, ऐसे जातक जिनके रिश्ते पिता के साथ स्पष्ट नहीं है, या जो व्यक्ति अपने पिता की मान सम्मान नहीं करता है, बात बात पर उनसे तकरार एवं तर्क वितर्क जैसी स्थिति उत्पन्न होने लगती है, उन्हें यह दिव्य मनका अवश्य धारण करना चाहिए, इससे पिता तथा पिता के समतुल्य लोगों से जातक की वैचारिक भिन्नता पूरी तरह से समाप्त होता है lउसके व्यवहार में अच्छी स्थितियां उत्पन्न होती है, जिससे पिता तुल्य एवं पिता को वह उत्तम मान -सम्मान प्रदान करता है, उनकी प्रतिष्ठा उनकी गरिमा का पूरा ध्यान रखता है।

इसे भी पढ़े:- सुलेमानी हकीक पत्थर के फायदे 

3. सनातन संस्कृति में सूर्य उपासना की पद्धति ना जाने कितनी ही हजारों करोड़ों वर्षों से की जाती हैl उन की पूजा अर्चना एवं आराधना प्रत्यक्ष ईश्वर के स्वरूप के रूप में की जाती हैl सूर्य भगवान के पूजा के सामान फल उस व्यक्ति को प्राप्त होता है, जिनके द्वारा 12 मुखी रुद्राक्ष अभिमंत्रित कर सिद्ध कर धारण किया जाता है, या विशिष्ट मंत्र का जाप 12 मुखी रुद्राक्ष के द्वारा किया जाता है।

4. 12 मुखी रुद्राक्ष (12 mukhi rudraksha dharan karne ke fayde) धारण करने से व्यक्ति को प्रशासनिक विभाग हो या राजनीतिक विभाग या सरकारी विभाग इन सभी में उसे सम्मान एवं उन्नति की प्राप्ति होती हैl ऐसे जातक जो अपने आजीविका के साधन के रूप में प्रशासनिक विभाग या सरकार विभाग में कार्यरत होना चाहते हैंl उन्हें 12 मुंखी रुद्राक्ष अवश्य धारण करना चाहिएl यह उनके लग्न कुंडली में उत्पन्न होने वाले विभिन्न गुण दोषों को पूरी तरह से ठीक करते हैं, तथा सूर्य को बल प्रदान करते हैं, जिससे सूर्य की स्थिति के कारण अन्य ग्रहों की धृष्टता भी दूर होती है, एवं रोजगार के सृजन में उत्पन्न होने वाले अनेक प्रकार के अवरोध दूर होते हैं, ऐसे जातक जो प्रतियोगिता परीक्षा में सफलता प्राप्त करना चाहते हैंl उन्हें यह अवश्य धारण करना चाहिए, इससे उनकी स्मृति क्षमता मजबूत होती है, तथा उनके अंदर जुनून उत्पन्न करता है, जिससे अपने महत्वकांछा को पूर्ण करने के लिए वह लोग पूरी तरह से आत्म केंद्रित रहते हैंl उन्हें विभिन्न प्रकार के सांसारिक मामलों में सफलता प्राप्त होती है, उनकी प्रतिभा ,उनके नेतृत्व, उनके आत्मविश्वास में वृद्धि होती है।

इसे भी पढ़े:- नीलम रत्न पहनने के फायदे 

5. ऐसे जातक जिनको बहुत जल्द बुरी नजर लग जाती है, या उन पर काला जादू तंत्र जादू टोना अभिचार होने का डर बना रहता है, या ऐसे लोग जिन पर नकारात्मक लोगों का प्रभाव बहुत जल्दी होता है, जिसके कारण कई कठिनाइयों का सामना करना पड़ता हैl बड़ी बीमारी एक्सीडेंट भूत प्रेत अदृश्य शक्तियों का तांडव उनके जीवन को बहुत ही विस्तृत रूप पर प्रभावित करता हैl दैनिक दिनचर्या के कार्यों को भी पूर्ण करने में असफल रहते हैं, तथा रात्रि उनके लिए किसी डरावनी अनुभूति से कम नहीं होती है, क्योंकि अक्सर उन्हें भूत के डरावने एवं विचित्र चीजों के सपने उन्हें चैन की नींद सोने नहीं देते हैं, उनका जीवन श्राप के सामान प्रभावित रहता है।

कई प्रकार से विश्लेषणात्मक प्रभाव को जाने के बाद भी किसी प्रकार का निष्कर्ष नहीं निकलता हैl विषाद योग उनके जीवन को और अधिक अरिष्ट युक्त चीजों को प्रदान करता हैl उक्त व्यक्ति को किसी भी तरह की युक्ति नजर नहीं आती जिससे उसके परेशानियों का निर्गमन हो सकेl ऐसे में उसे 12 मुखी रुद्राक्ष (12 mukhi rudraksha pahanne ke fayde) धारण करना चाहिए इसके प्रभाव से अनेक प्रकार की दुष्ट एवं बुरी शक्तियां स्वयं ही नष्ट होने लगती है, जातक के प्राण शक्ति को सुरक्षित करता है, तथा आभामंडल को सुरक्षा प्रदान करता है, जिससे किसी भी तरह की खराब प्रवृत्ति वाली चीजें उस पर हावी नहीं होती है।

यदि आप भी अभिमंत्रित किया हुआ 12 मुखी रुद्राक्ष प्राप्त करना चाहते हैं तो हमारे नवदुर्गा ज्योतिष केंद्र से पंडित जी द्वारा अभिमंत्रित किया हुआ 12 मुखी रुद्राक्ष मात्र – 5500₹ में मिल जायेगा जिसका आपको लैब सर्टिफिकेट और गारंटी के साथ में दिया जायेगा (Delevery Charges free) Call and WhatsApp on- 7567233021

 

Leave a Reply