पांच मुखी रुद्राक्ष कैसा होता है – Panch Mukhi Rudraksha Kaisa Hota Hai

पांच मुखी रुद्राक्ष कैसा होता है – Panch Mukhi Rudraksha Kaisa Hota Hai

 

 पांच मुखी रुद्राक्ष कैसा होता है – Panch

 Mukhi Rudraksha Kaisa Hota Hai

पांच मुखी रुद्राक्ष कैसा होता है – पांच मुखी रुद्राक्ष पंच देवताओं का स्वरूप माना जाता हैl माता काली, माता लक्ष्मी तथा माता सरस्वती ,भोलेनाथ तथा नारायण की शक्तियों का स्वरूप पांच मुखी रुद्राक्ष को माना जाता हैl पांच मुखी रुद्राक्ष (panch mukhi rudraksha benefits in hindi) पर प्राकृतिक रूप से पांच धारिया मौजूद रहती है, जिन्हें पांच मुख के रूप में वर्णित किया जाता है, जो पांच तत्व की प्रधानता को अलंकृत करता हैl पांच मुखी रुद्राक्ष पंच ब्रह्मांड की शक्तियों का समावेशन होता है, इसलिए यह बहुत ही कल्याणकारी माना जाता हैl इसे धारण करने वाले व्यक्ति विशेष जीवन के सभी क्षेत्र में देवी कृपा से परिपूर्ण रहता है, तथा उसे हर क्षेत्र में प्रगति प्राप्त होती हैl यह सभी इच्छाओं को पूर्ण करने का साधन हैl रुद्राक्ष के वृक्ष भारत के कई क्षेत्रों से प्राप्त होता है, इसके साथ-साथ नेपाल, इंडोनेशिया आदि में भी इसके वृक्ष पाए जाते हैंl पंचमुखी रुद्राक्ष की उपलब्धता विभिन्न प्रकार के रुद्राक्षो में सबसे अधिक माना जाता है।

इसे भी पढ़े:- गोमेद रत्न धारण करने के लाभ 

पांच मुखी रुद्राक्ष (panch mukhi rudraksha ke fayde) बहुत ही लोकप्रिय रुद्राक्ष माना जाता है, क्योंकि यह हर आयु वर्ग के लोगों के लिए बहुत ही लाभप्रद होता हैl आध्यात्मिक क्षेत्र से जुड़े हुए लोग हैं या गृहस्थ जीवन यापन करने वाले लोग ही या शिक्षा के क्षेत्र से जुड़े हुए लोग हो या व्यापार आदि में संलग्न लोग या बीमार व्यक्ति यह हर किसी के लिए बहुत ही लाभदायक होता हैl छोटे बच्चों के द्वारा भी इसे धारण किया जा सकता है।

पांच मुखी रुद्राक्ष (panch mukhi rudraksha kaisa hai) की महिमा का वर्णन केवल विभिन्न प्रकार के पुराणों में ही या धार्मिक ग्रंथों में ही नहीं अपितु कई प्रकार के देश विदेश में रुद्राक्ष पर हो रहे शोध अनुसंधान भी इसकी सत्यता को पूरी तरह से प्रमाणित कर रहे हैंl
प्राचीन ग्रंथों में जिस प्रकार इस के चमत्कारिक गुण तथा दिव्य स्वरूपों की चर्चा की गई हैl उन सभी की प्रमाणिकता के लिए रुद्राक्ष पर देश-विदेश के कई लोगों के द्वारा इस पर शोध किए गए तथा उस पर पूरी तरह से इसकी प्रमाणिकता सिद्ध की गई कि इसे धारण करने से कई प्रकार की बीमारियों में यह बहुत ही उत्तम रूप से लाभप्रद होता हैl मोटापा या हार्मोन से संबंधित बीमारी या थाइरोइड जैसी समस्या या रक्तचाप जैसी बीमारी या शुगर जैसी बीमारी या पीलिया जैसे रोग या सुनने की क्षमता में कमी आना इन सभी में यह बहुत ही उत्तम प्रभाव डालता है lइसके चुंबकीय तत्व एवं औषधीय गुण अनेक प्रकार की बीमारियों को पूर्ण रूप से ठीक करने की क्षमता रखते हैं।

इसे भी पढ़े:- रुद्राक्ष क्या है, रुद्राक्ष के प्रकार उनके शक्तिशाली फायदे और धारण करने की श्रेष्ठ विधि 

पांच मुखी रुद्राक्ष (panch mukhi rudraksha pahanne ke fayde) हृदय से संबंधित रोगों में भी बहुत ही उत्तम माना जाता है, तथा कोलेस्ट्रॉल जैसी समस्या को यह पूरी तरह से नियंत्रित करता हैl स्नायु तंत्र पर भी यह उत्तम प्रभाव डालता हैl तंत्रिका आवेग के प्रवाह को पूरी तरह से संतुलित करता है, जिससे किसी भी प्रकार की मानसिक विक्षिप्तता मानसिक रोग या मानसिक संताप जैसी स्थिति उत्पन्न नहीं होने देता अकारण होने वाले किसी भी तरह के तनाव को यह पूरी तरह से दूर करता है, तथा मन मस्तिष्क हृदय शरीर को पूरी तरह से शांति प्रदान करता हैl

कई प्रकार के शोधों में तो यह भी बताया गया है, कि इसमें कुछ ऐसे तत्व पाए जाते हैं, जो कैंसर प्रतिरोधक क्षमता का प्रतिनिधित्व करते हैंl हमारे ऋषि मुनियों के द्वारा तथा हमारे पूर्वजों के द्वारा इस दिव्य ऊर्जा पुंज का उपयोग ना जाने कितने ही वर्षों से किया जा रहा है, जिसके बारे में सही-सही आकलन करना नामुमकिन है, किंतु यह बहुत ही आश्चर्य की बात है, कि जो चीजें हमारे पूर्वजों के द्वारा बताई गई हैl उसकी प्रमाणिकता ,उसकी सत्यता आज विज्ञान भी मान रहा है, तथा उसके समक्ष नतमस्तक हैl इसमें कई ऐसे चमत्कारिक गुण मौजूद रहते हैं, जो अपने आप में अद्वितीय होते हैं lइसके विभिन्न पहलुओं को देखा जाए तो यह मन का साक्षात भगवान भोलेनाथ का स्वरूप माना जा सकता है lयह ईश्वर के रूप में प्राप्त एक दिव्य वरदान है, जो मानव संरचना को जन्म मरण के बंधन से मुक्ति दिलाने का कारक है lयह मोक्ष को प्राप्त करने का एक बहुत बड़ा साधन माना जाता है lयही कारण है कि तपस्वी हो या अध्यात्म से जुड़े लोग हैंl उन लोगों के द्वारा व्यापक रूप से पांच मुखी रुद्राक्ष (panch mukhi rudraksh ka upyog) का उपयोग किया जाता है।

इसे भी पढ़े:- आठ मुखी रुद्राक्ष के फायदे 

इस में व्याप्त चुंबकीय तत्व कई प्रकार के नकारात्मक ऊर्जाओं को पूरी तरह से नष्ट करने की क्षमता रखते हैं lइसके स्पंदन की क्षमता बहुत उत्कृष्ट होती है lयही कारण है, कि इसका प्रयोग करने से किसी भी तरह की समस्या उक्त व्यक्ति विशेष को नहीं होती है, जिसके द्वारा इसे धारण किया जाता है lविभिन्न प्रकार के दैनिक दिनचर्या में उत्पन्न होने वाले समस्याओं के समाधान के लिए यह बहुत ही उपयुक्त माना जाता हैl

छोटे बच्चों के सर्वांगीण विकास के लिए भी 5 मुखी रुद्राक्ष (panch mukhi rudraksh ka upyog kaise karen) का उपयोग किया जा सकता है, यह उनके रचनात्मक एवं कलात्मक विकास में बहुत ही लाभप्रद होता है, यह उनके बौद्धिक विकास में वृद्धि करने में सहायक होता है, इसके साथ ही उन में एकाग्रता जैसी शक्ति का उद्गम होता है, शिक्षा के क्षेत्र में उन्हें उत्तम लाभ प्राप्त होता है l नई नई चीजों की खोज करना उनके प्रति पारस्परिक क्रिया करना तथा कई चीजों के गुप्त ज्ञान को प्राप्त करना आदि में भी यह बहुत ही लाभप्रद माना जाता है।

इसे भी पढ़े:- सात मुखी रुद्राक्ष के फायदे 

पांच मुखी रुद्राक्ष (panch mukhi rudraksha dharan karne ke labh) का उपयोग वैवाहिक जीवन में उत्पन्न होने वाले किसी भी प्रकार की समस्या के समाधान के लिए भी किया जा सकता है lइसमें गुरु ग्रह से संबंधित शक्तियां वास करती हैl गुरु ग्रह का प्रतिनिधित्व पांच मुखी रुद्राक्ष के द्वारा की जाती है, इसलिए ऐसे जातक जिनके जीवन में विवाह जैसे मांगलिक कार्य संपन्न नहीं हो रहे हैं, या जिनके दांपत्य जीवन में अनेक परेशानियां उत्पन्न हो रही है या संतान से संबंधित किसी भी प्रकार की पीड़ा उनके जीवन में दुख का कारण बन चुका है, तो ऐसी स्थिति में उन्हें 5 मुखी रुद्राक्ष अवश्य धारण करना चाहिए, इससे केवल उनके व्यक्तिगत जीवन में संतुलन स्थापित होगा, बल्कि हर क्षेत्र में इसके अनुकूल एवं सकारात्मक परिणाम देखने को मिलेंगे तथा संतान पक्ष से उत्पन्न हो रही किसी भी प्रकार की समस्या का भी निवारण बहुत जल्द प्राप्त होता हैl

पांच मुखी रुद्राक्ष (panch mukhi rudraksh ka mahatva) साक्षात सभी देवताओं का आशीर्वाद है, जो हमें प्राप्त हुआ है, अतः पांच मुखी रुद्राक्ष को सिद्ध करके यदि धारण किया जाए तो इसके और अधिक उत्तम परिणाम हमें देखने को मिल सकते हैं lयह भगवान रुद्र का एक दिव्य अवतार है, जो भगवान ने जनमानस को उपहार के स्वरुप में पांच मुखी रुद्राक्ष के रूप में प्रदान किया हैl

यदि आप भी अभिमंत्रित किया हुआ पांच मुखी रुद्राक्ष प्राप्त करना चाहते हैं तो हमारे नवदुर्गा ज्योतिष केंद्र से पंडित जी द्वारा अभिमंत्रित किया हुआ पांच मुखी रुद्राक्ष मात्र – 350₹ मिल जायेगा जिसका आपको लैब सर्टिफिकेट और गारंटी के साथ में दिया जायेगा (Delevery Charges free) Call and WhatsApp on- 7567233021

 

Leave a Reply